दिशा सालियान की पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट से गलत साबित हुआ पूर्व CM राणे का दावा, नहीं हुआ था यौन उत्‍पीड़न
Mumbai News in Hindi

दिशा सालियान की पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट से गलत साबित हुआ पूर्व CM राणे का दावा, नहीं हुआ था यौन उत्‍पीड़न
दिशा सालियान ने भी की थी आत्‍महत्‍या.

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कोंकण के बीजेपी नेता एम नारायण राणे (Narayan Rane) ने आरोप लगाया था कि दिशा सालियन (Disha Salian) के साथ 'बलात्कार और हत्या' की गई थी. हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साफ कहा गया है कि दिशा के साथ यौन हिंसा के कोई निशान नहीं मिले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 12, 2020, 8:53 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh rajput case) के सुसाइड केस में रोजाना नई-नई बातें सामने आ रही हैं. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) सुशांत केस से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच कर रहा है. इसके तहत रिया चक्रवर्ती पर शिकंजा कसा जा रहा है. वहीं सुशांत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान (Disha Salian) की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आई है. उसके अनुसार दिशा की मौत गिरने के कारण आई चोटों की वजह से हुई थी. साथ ही कहीं भी यौन हमले के सबूत नहीं मिले हैं. वहीं महाराष्‍ट्र के पूर्व सीएम नारायण राणे ने दावा किया था कि दिशा के साथ पहले रेप हुआ था और फिर उसकी हत्‍या की गई थी.

इंडियन एक्सप्रेस ने दिशा सालियान की पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट को हासिल किया. साथ ही बोरीवली में भगवती अस्पताल द्वारा तैयार किए गए विस्तृत पोस्टमार्टम नोटों को भी देखा. दिशा सालियान का शव घटना के बाद यहीं ले जाया गया था. दिशा सालियान की पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार, उसकी मौत 12वीं मंजिल से गिरने के कारण एंटेमॉर्टम इंजरी से हुई. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कोंकण के बीजेपी नेता एम नारायण राणे ने आरोप लगाया था कि दिशा सालियन के साथ 'बलात्कार और हत्या' की गई थी और राज्य सरकार युवा मंत्रियों में से एक को बचाने की कोशिश कर रही थी.

कहा जाता है कि सेलिब्रिटी एंडोर्समेंट कंपनी की कर्मचारी दिशा सालियन ने सुशांत सिंह राजपूत के साथ थोड़ी बातचीत की थी. 14 जून को एक्‍टर द्वारा आत्महत्या किए जाने के बाद सोशल मीडिया पर इन दोनों घटनाओं को जोड़कर देखा जाने लगा था. सोशल मीडिया पर ये भी दावे किए जाने लगे थे कि इनकी हत्‍या हुई थी. राणे ने यह दावा करते हुए कहा कि उनके पास इन आरोपों को साबित करने के लिए जानकारी थी.



सालियन और राजपूत दोनों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की आशंका नहीं जताई गई है. नारायण राणे को जब यह बताया गया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने उनके दावे का खंडन किया है, तो राणे ने कहा, 'रिपोर्ट के अनुसार जिन हिस्‍सों पर उसको चोट आई हैं, वो किसी इमारत से गिरने के कारण नहीं आ सकतीं. मुझे नहीं पता कि आपने कौन सी रिपोर्ट देखी है.'

वहीं दिशा सालियन की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साफतौर पर यह उल्लेख किया गया है कि उसके साथ कोई यौन हमला नहीं हुआ है. 15 जुलाई को पुलिस ने भगवती अस्पताल को एक प्रश्नावली भेजी और विशेष रूप से पूछा कि क्या कोई यौन हमले या हत्या के संकेत के कोई सबूत हैं. अस्पताल ने पोस्टमार्टम के निष्कर्षों को दोहराया और कहा कि दिशा की पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट में यौन उत्पीड़न या हत्या का कोई संकेत नहीं था और सालियन की मौत छह चोटों के कारण हुई थी जो गिरने के कारण लगी थीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading