Home /News /maharashtra /

किसान या जवान नहीं, ये कोविड ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर का हाथ है, पोस्ट हुई वायरल

किसान या जवान नहीं, ये कोविड ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर का हाथ है, पोस्ट हुई वायरल

फोटो साभारः फेसबुक/Resident Doctors KEM Hospital

फोटो साभारः फेसबुक/Resident Doctors KEM Hospital

कई घंटों तक लगातार पीपीई किट पहनकर कोरोना के मरीजों का इलाज करने के कारण डॉक्टरों की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है. अब तक सोशल मीडिया पर कोरोना के इलाज में लगे डॉक्टर्स के हालातों के कई वीडियोज सामने आ चुके हैं.

मुंबई. भारत में दिनों-दिन कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. सबसे ज्यादा कोरोना के मामले महाराष्ट्र (Maharastra) में सामने आ रहे हैं, लेकिन हालात राजधानी मुंबई के ज्यादा बुरे हैं. मुंबई में कोरोना वायरस (Corona case in Mumbai) के अब तक 48,774 मामलों की पुष्टि हो चुकी है. जबकि 1638 लोग इस वायरस के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं. एक तरफ आंकड़ें चिंताजनक है, दूसरी तरफ कोरोना का इलाज कर रहे डॉक्टरों (Doctors) और मेडिकल स्टाफ (Medical Staff) के हालात.

कई घंटों तक लगातार पीपीई किट पहनकर कोरोना के मरीजों का इलाज करने के कारण डॉक्टरों की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है. अब तक सोशल मीडिया पर कोरोना के इलाज में लगे डॉक्टर्स के हालातों के कई वीडियोज सामने आ चुके हैं. अब एक डॉक्टर की पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. ये पोस्ट मुंबई स्थित केईएम अस्पताल की डॉ. असीमा गार्गवा की है. इस पोस्ट में असीमा ने अपने हाथों की तस्वीर को शेयर किया है. लगातार दस्ताने पहने रहने के कारण असीमा के हाथ बिल्कुल सफेद पड़ गए हैं. उन्होंने अपनी पोस्ट में लिखा.

कोविड डॉक्टर के हाथ और दिल से...

यह एक किसान का हाथ नहीं है जो दुनिया के अरबों लोगों को खिलाने के लिए धान के खेतों में लगातार काम कर रहा है. यह एक सैनिक का हाथ भी नहीं है जो हमलावर दुश्मनों से अरबों की रक्षा करता है. मेरे प्यारे दोस्तों और साथी देशवासियों, ये आपके डॉक्टर का एक हाथ है जो अभी कोविड ड्यूटी पर है. जो अभी कहीं न कहीं इस देश के किसी हिस्से में, कोविड प्रभावित लोगों के इलाज के लिए अपना सबसे बेहतर देने की कोशिश कर रहा है.

संक्रमित होने के जोखिम के साथ दिन-रात काम करने के बाद भी, हमारे माथे पर चिंता की लकीरें नहीं हैं, लेकिन इसे आपको चिंता करने से नहीं रोकना चाहिए क्योंकि अगले कुछ महीनों में जो आने वाला है वह अरबों की जिंदगी के भाग्य का फैसला करेगा. अभी भारत महामारी के बड़े पैमाने पर प्रकोप की शुरुआत में है, हालांकि हम दुनिया में सर्वाधिक प्रभावित देशों में छठे स्थान पर हैं.

और हां मैं इसे लाखों मामलों के बाद भी शुरुआत के रूप में कहता हूं क्योंकि संख्या अधिक और अधिक हो जाएगी. मुंबई इस ज्वालामुखी का मुंह होने के कारण पहले ही इसकी गर्मी महसूस करने लगा है, जबकि आधी आबादी भी इसके संपर्क में नहीं है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें

इस देश के युवाओं को आगे आने और अपने बड़ों की सुरक्षा की जिम्मेदारी लेने की जरूरत है. अस्पताल और स्वास्थ्य केंद्र जल्द ही हेल्थ वॉलंटियर्स सेवाएं देने की अपील करते दिख सकते हैं. आपने सोशल और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर कई हेल्थकेयर सेटअपों के वायरल वीडियो में दुखद हालात देखे होंगे. अगर वो अपील नहीं करते हैं तो भी अनुरोध करता हूं कि हमारे युवा टिकटॉक, यूट्यूब और अन्य निरर्थक चीजों में समय बर्बाद करने के बजाय अस्पतालों और अन्य सामाजिक सेवाओं में कदम बढ़ाकर मदद करने की कोशिश करें.

यह कहना आसान है कि यह मेरा काम नहीं है, लेकिन किसी समय स्वास्थ्य में हमारे मानव संसाधन थकना शुरू होंगे. और बहुत ईमानदारी से कहूं तो वो थकना शुरू हो भी गए हैं.

यह पहले से ही कई अन्य देशों में हो रहा है जहां स्वस्थ युवा हेल्थ वॉलंटियर्स इस लड़ाई को लड़ने के लिए चिकित्सा पेशेवरों और सरकार की मदद कर रहे हैं. जब हम सभी को भारतीय होने पर गर्व है और दुनिया में युवाओं की सर्वाधिक आबादी वाले देशों में से एक है, युवा पीढ़ी की स्वैच्छिक सेवाओं की सख्त जरूरत है.

अपने डॉक्टरों के साथ-साथ इमरजेंसी सर्विस प्रोवाइडर्स की मदद करें ताकि वे राष्ट्र को इस संकट से बाहर आने में मदद कर सकें. सिर्फ इसलिए कि यह दिखाई नहीं देता इसका मतलब यह नहीं है कि इसका अस्तित्व नहीं है. महामारी वास्तविक है और बड़ा या छोटा कोई भी योगदान, हमेशा कारण के इलाज के रूप में गिना जाएगा.

जागो, घर रहो, अपने हाथ साफ रखो, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखो, मास्क पहनो और सुरक्षित रहो.

ये भी पढ़ेंः- VIRAL VIDEO: बस में ट्रैवल करता नजर आया लंगूर, लोगों ने कहा- कोई मास्क तो पहनाओ

Tags: Coronavirus, Coronavirus in India, COVID 19, COVID 19 Test, Maharashtra, Mumbai

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर