अपना शहर चुनें

States

ड्रग्स केस में मुंबई के मुच्छड़ पानवाले का नाम आया सामने, NCB ने भेजा समन

ड्रग्स केस में मुंबई के मुच्छड़ पानवाले का नाम आया सामने
ड्रग्स केस में मुंबई के मुच्छड़ पानवाले का नाम आया सामने

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने दो दिन पहले ही दीया मिर्जा (Diya Mirza) की एक्स मैनेजर रोहिला फर्नीचरवाला के साथ ही करन सजनानी, राहिला और शाइस्ता को पकड़ा था. इनके पास से करीब 200 किलो गांजा बरामद हुआ था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 11, 2021, 11:15 AM IST
  • Share this:
मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन को लेकर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) अलर्ट है. ड्रग्स मामले में एनसीबी ने दो दिन पहले ही दीया मिर्जा (Dia Mirza) की एक्स मैनेजर राहिला फर्नीचरवाला (Rahila Furniturewala), उनकी बहन सहित 2 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है. इस मामले में अब मुंबई के प्रसिद्ध मुच्छड़ पानवाला (Muchhad Paanwala)  दुकान के मालिक भरत तिवारी का नाम भी सामने आया है. एनसीबी ने ड्रग्स् केस में भरत तिवारी को समन भेजा है. भरत तिवारी को आज एनसीबी पहुंचकर इस मामले में अपना बयान दर्ज कराने को कहा गया है.

जानकारी के मुताबिक दीया मिर्जा की एक्स मैनेजर राहिला फर्नीचरवाला केस में बयान दर्ज कराने के लिए मुच्छड़ पानवाला को समन भेजा गया है. बता दें कि एनसीबी की टीम ने दो दिन पहले ही दीया मिर्जा की एक्स मैनेजर रोहिला फर्नीचरवाला के साथ ही करन सजनानी, राहिला और शाइस्ता को पकड़ा था. एनसीबी को इनके पास से करीब 200 किलो गांजा बरामद हुआ था. एनसीबी को पूछताछ के दौरान पता चला है कि ब्रिटिश नागरिक करन सजनानी मुच्छड़ पानवाला को गांजा सप्लाई करता था. करन सजनानी के बयान में भरत तिवारी का नाम सामने आने के बाद समन भेजा गया है.

एनसीबी इससे पहले बॉलीवुड ड्रग्स कनेक्शन मामले में कई सेलेब्रिटी से पूछताछ कर चुकी है. इसमें अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, रकुल प्रीत, सारा अली खान शामिल हैं. इसके अलावा अभिनेता अर्जुन रामपाल से भी कई बार पूछताछ हो चुकी है. गांजा रखने के आरोप में कलाकार भारती सिंह और उसके पति हर्ष को भी गिरफ्तार किया गया था.
इसे भी पढ़ें :- बॉलीवुड ड्रग्स कनेक्शन: एक्ट्रेस दीया मिर्जा की पूर्व मैनेजर और उसकी बहन को NCB ने किया गिरफ्तार



असिस्टेंट डायरेक्टर ऋषिकेश पवार की तलाश में जुटी एनसीबी
वहीं, सुशांत सिंह राजपूत के मामले ड्रग्स एंगल की जांच कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को अब उनके पूर्व ड्रीम प्रोजेक्ट के असिस्टेंट डायरेक्टर ऋषिकेश पवार की तलाश है. एंटी-ड्रग एजेंसी को शक है कि पवार का हाथ सुशांत को ड्रग्स सप्लाई करने में है. एनसीबी को ऋषिकेश पवार की घर की तलाशी के दौरान उनके लैपटॉप में कुछ संदिग्ध इंट्री मिली थी, जिसके बाद NCB ने उन्हें समन भेजकर पेश होने के लिए कहा था लेकिन ऋषिकेश पवार नही आए. पवार की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज हो चुकी है इसलिए अब NCB उनकी तलाश कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज