परमबीर सिंह बोले- मैंने ही भेजी है सीएम उद्धव को चिट्ठी, अनिल देशमुख के आरोपों पर कहा- नो कमेंट्स

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने महाराष्‍ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर गंभीर आरोप लगाए हैं.  (File Photo)

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने महाराष्‍ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर गंभीर आरोप लगाए हैं. (File Photo)

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह (Parambir Singh) के आरोपों को अन‍िल देशमुख (Anil Deshmukh) ने खारिज कर दिया है और मानहानी का केस दायर करने की भी बात कही है. हालांकि मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर ने एक बार फिर कहा कि मेरी ओर से जो चिट्ठी दी गई है वह पूरी तरह से सही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2021, 11:13 AM IST
  • Share this:
मुंबई. मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह (Param Bir Singh) ने जिस तरह से मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को पत्र लिखकर गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) पर गंभीर आरोप लगाए हैं, उसके बाद से महाराष्‍ट्र की सियासत में भूचाल आ गया है. परमबीर सिंह ने उद्धव ठाकरे को लिखे पत्र में कहा था कि गृह मंत्री देशमुख ने हर महीने 100 करोड़ रुपये की डिमांड रखी थी. हालांकि परमबीर सिंह के आरोपों को अन‍िल देशमुख ने खारजि कर दिया है और मानहानी का केस दायर करने की भी बात कही है. महाराष्‍ट्र की राजनीति में मचे बवाल के बीच मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर ने एक बार फिर कहा है कि मेरी ओर से जो चिट्ठी दी गई है वह पूरी तरह से सही है.

News18 की Exclusive जानकारी में मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने एक बार फिर कहा है कि चिट्टी पूरी तरह से सही है और ई-मेल आईडी मेरी ही है. हालांकि जब उनसे गृहमंत्री अनिल देशमुख के आरोपों से संबंधित सवाल किए गए तो उन्‍होंने कहा No comments. बता दें कि परमबीर सिंह के इन आरोपों पर महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने ट्वीट कर पलटवार किया. उन्होंने कहा कि सचिन वाझे का सीधा कनेक्शन और मनसुख हिरेन का केस सामने आ रहा है. परमबीर सिंह को डर है कि ये कनेक्शन उन तक पहुंच सकता है. ऐसे में वे खुद को बचाने के लिए गलत आरोप लगा रहे हैं, ताकि उनके खिलाफ कानूनी एक्शन ना हो.

बता दें कि महाराष्ट्र मुख्यमंत्री कार्यालय ने शनिवार को कहा था कि वह परम बीर सिंह के उस पत्र की जांच कराएगी, जिसमें उन्होंने गृह मंत्री अनिल देशमुख पर गंभीर आरोप लगाए हैं. महाराष्ट्र सीएमओ ने कहा कि "परमबीर सिंह का पत्र आज शाम 4:37 बजे एक अलग ईमेल आईडी के माध्यम से प्राप्त हुआ, न कि उनके आधिकारिक ईमेल से और वह भी उनके हस्ताक्षर के बिना. नए ईमेल एड्रेस की जांच करने की आवश्यकता है. गृह मंत्रालय उसी के लिए उनसे संपर्क करने की कोशिश कर रहा है."
इसे भी पढ़ें :- सचिन वाजे केस: महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने परमबीर सिंह के तबादले पर क्या कहा



परमबीर सिंह ने अनिल देशमुख पर क्‍या लगाए आरोप
न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह ने दावा किया है कि अनिल देशमुख ने सचिन वाझे को 100 करोड़ रुपये का टारगेट दिया था. परमबीर सिंह ने अपनी चिट्ठी में लिखा है कि 100 करोड़ रुपये टारगेट को पूरा करने के लिए मुंबई के बार, पब और रेस्टोरेंट से वसूली करने को कहा गया था. चिट्ठी के मुताबिक, इस टारगेट पर सचिन वाझे ने कहा था कि वो 40 करोड़ रुपये तो पूरा कर सकते हैं लेकिन 100 करोड़ बहुत ज्यादा है. परमबीर सिंह ने दावा किया कि 100 करोड़ का टारगेट पूरा करने के लिए अनिल देशमुख ने सचिन वाझे को दूसरे तरीके इजाद करने के लिए कहा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज