महाराष्ट्र में फिर लग सकता है लॉकडाउन, अजित पवार बोले- समीक्षा के बाद करेंगे फैसला

अजित पवार ने कहा कि हम अगले 2-3 दिन तक स्थिति की समीक्षा करेंगे
अजित पवार ने कहा कि हम अगले 2-3 दिन तक स्थिति की समीक्षा करेंगे

Lockdown in Maharashtra: त्योहारों के मौसम के बाद देश के कई राज्यों में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़े हैं. महाराष्ट्र भी इसमें से एक है. बढ़ते मामलों को देखते हुए डिप्टी सीएम अजित पवार ने कहा है कि स्थिति की समीक्षा के बाद ही लॉकडाउन को लेकर कोई फैसला किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 22, 2020, 5:17 PM IST
  • Share this:
मुंबई. देश में त्योहारों के बाद से लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलों के बीच महाराष्ट्र (Maharashtra) में फिर से लॉकडाउन (Lockdown) लागू किया जा सकता है. महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार (Maharashtra Deputy CM Ajit Pawar) ने रविवार को यह बात कही. पवार ने कहा है कि फिलहाल दो तीन दिन स्थिति की समीक्षा करेंगे. महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा कि दिवाली (Diwali) पर हमने काफी भीड़ देखी. गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi) के समय भी हमने काफी भीड़ देखी. पवार ने कहा कि हम संबंधित विभागों से बातचीत कर रहे हैं.

अजित पवार ने कहा कि हम अगले 2-3 दिन तक स्थिति की समीक्षा करेंगे और उसके बाद आगे लॉकडाउन लगाने के बारे में फैसला करेंगे. पवार ने कहा कि दिवाली के समय, बहुत भीड़ थी ऐसा लग रहा था जैसे कि कोरोना भारी भीड़ से अपने आप मर जाएगा. अब ऐसा कहा जा रहा है कि कोरोना की दूसरी लहर आ सकती है. सरकार ने स्कूलों को खोलने के लिए तमाम पाबंदियां लगा रही है जिसमें कि विभिन्न तरीकों से उसे सैनिटाइज़ करना भी शामिल है.

ये भी पढ़ें- 57 ट्रेनी IAS अधिकारी कोरोना पॉजिटिव, 3 दिसंबर तक संस्थान बंद; ऑनलाइन होगी ट्रेनिंग



महाराष्ट्र में 17 लाख 74 हजार से ज्यादा केस
बता दें महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 5,760 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या शनिवार को बढ़कर 17,74,455 हो गई है. उन्होंने कहा कि शनिवार को संक्रमण के चलते 62 रोगियों की मौत हुई है, जिसके बाद मृतकों की कुल संख्या 46,573 हो गई है. अधिकारी ने कहा कि राज्य में संक्रमण से मुक्त होने के बाद आज 4,088 लोगों को छुट्टी दे गई, जिसके साथ ही अबतक 16,47,004 कोविड-19 मरीज ठीक हो चुके हैं. उन्होंने कहा कि राज्य में फिलहाल 79,873 रोगियों का इलाज चल रहा है.

मुम्बई में 1093 नये मरीज जाने से कोविड-19 के मामले बढ़कर 2,74,579 हो गये. शहर में 17 और मरीजों की जान चले जाने से इस संक्रमण से अबतक 10,656 रोगियों की मौत हो चुकी है. राज्य में अबतक 1,01,20,470 नमूनों की जांच हो चुकी हैं मुम्बई और उसके आसपास के शहरों से बने मुम्बई संभाग कोरोना वायरस के मामले 1977 बढ़कर 6,15,499 हो गये. इस संभाग में अबतक कोविड-19 के 18,485 मरीजों ने जान गंवायी है.

ये भी पढ़ें- आयुर्वेद डॉक्टरों को सर्जरी का हक मिलने से IMA नाखुश, कहा-होंगे गंभीर परिणाम

पुणे में 10 हजार से ज्यादा मौतें
पुणे संभाग में शनिवार तक कोविड- 19 के मामले 4,44,534 रहे जबकि अबतक 10,493 लोगों को इस वायरस के चलते जान गंवानी पड़ी है. नासिक संभाग में इस महामारी के मामले 2,38,660 हो गये जबकि अबतक 4470 मरीजों ने जान गंवायी है.


कोल्हापुर संभाग में कोरेाना वायरस के मामले 1,12,172 तक चले गये जबकि अबतक 3900 मरीजों की जान चली गयी. औरंगाबाद संभाग में शनिवार को कोविड-19 के मामले 66,169 हो गये जबकि अबतक 1,678मरीजों की जान चली गयी.

लातुर संभाग में शनिवार को कोविड-19 के मामले 73,149 रहे जबकि अबतक 2236 मरीजों की मौत हुई. अकोला संभाग में कोरोना वायरस के मामले 56,439 तक पहुंच गये जबकि अबतक 1332 लोगों ने इस वायरस जान गंवायी है. नागपुर संभाग में शनिवार को संक्रमितों की संख्या 1,65,857 हेा गयी जबकि 3819 लोग इस संक्रमण से मर गये. (भाषा के इनपुट सहित)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज