अपना शहर चुनें

States

मुंबई मेट्रो से सफर करने वालों के लिए खुशखबरी, सोमवार से बढ़ेंगे फेरे, आखिरी मेट्रो की टाइमिंग में भी हुआ बदलाव

बीते साल मार्च में लॉकडाउन लगाए जाने के बाद Metro 1 की सेवाएं अक्टूबर में शुरू हुई थीं. सेवा दोबारा शुरू होने से मेट्रो के यात्रियों में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई.
बीते साल मार्च में लॉकडाउन लगाए जाने के बाद Metro 1 की सेवाएं अक्टूबर में शुरू हुई थीं. सेवा दोबारा शुरू होने से मेट्रो के यात्रियों में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई.

बीते साल मार्च में लॉकडाउन लगाए जाने के बाद Metro 1 की सेवाएं अक्टूबर में शुरू हुई थीं. सेवा दोबारा शुरू होने से मेट्रो के यात्रियों में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 15, 2021, 8:16 AM IST
  • Share this:
मुंबई. मुंबई मेट्रो (Mumbai Metro) ने सोमवार से फेरे बढ़ाने का फैसला लिया है. बताया गया कि 18 जनवरी से घाटकोपर से वर्सोवा के बीच अब 200 नहीं बल्कि मेट्रो के 230 फेरे लगेंगे. वहीं मेट्रो की रात्रि सेवा में भी 1 घंटे की बढ़ोत्तरी की गई है. बता दें अब तक घाटकोपर मेट्रो स्टेशन से आखिरी ट्रेन 9.15 बजे डिपार्ट होती थी लेकिन अब यह समय 1 घंटा बढ़कर 10.15 बजे हो गया है. वहीं वर्सोवा से आखिरी ट्रेन 8.50 बजे नहीं बल्कि अब रात के 9.50 बजे डिपार्ट होगी. हालांकि इन दोनों स्टेशनों से सुबह के टाइम डिपार्ट होने वाली पहली मेट्रो के टाइमिंग में कोई बदलाव नहीं हुआ है.

बताया गया कि सुबह की पहली मेट्रो पहेल की तरह से वर्सोवा में 7.50 बजे और घाटकोपर से 8.15 बजे रवाना होगी. बीते साल मार्च में राष्ट्रीय लॉकडाउन के बाद अक्टूबर में मेट्रो की सेवाएं दोबारा शुरू की गई थईं.

कोविड प्रोटोकॉल्स के चलते मेट्रो ने फेरी और समय बढ़ाने का निर्णय लिया
वहीं सेवा दोबारा शुरू होने से मेट्रो के यात्रियों में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई. मेट्रो 1 की यात्रियों की संख्या जहां दिसंबर के आखिरी तक 50 हजार थी वह अब बढ़कर 70,000 हो गई है. बताया गया कि कोविड प्रोटोकॉल्स का कड़ाई से पालन हो इसके लिए मेट्रो ने फेरी और समय बढ़ाने का निर्णय लिया है.



मुंबई मेट्रो 1  (Metro 1) की एक ट्रेन में फिलहाल सिर्फ 300 यात्रियों को सफर करने की अनुमति दी गई है. इसमें 100 लोग बैठकर और 160 लोग खड़े होकर यात्रा कर सकेंगे. बता दें लॉकडाउन से पहले तक मेट्रो के रोजाना 400 फेरे लगते थे और कम से कम 3 लाख यात्री रोज सफर करते थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज