अस्‍पताल ने दूसरे परिवार को दे दिया कोरोना मरीज का शव, लोग मान रहे थे लापता

अस्‍पताल से हुई गलती.
अस्‍पताल से हुई गलती.

72 वर्षीय व्यक्ति के परिजनों ने रविवार देर रात कपूरबावड़ी पुलिस स्टेशन में गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया था, क्योंकि कोरोना संक्रमण (Coronavirus) का मरीज अस्पताल से लापता हो गया था.

  • Share this:
ठाणे. महाराष्ट्र (Maharashtra) के ठाणे शहर (Thane) में कुछ दिन पहले लापता हुए एक कोविड-19 (Covid-19) मरीज का मामला मंगलवार देर शाम सुलझ गया, जब पता चला कि उसका शव अस्पताल द्वारा किसी दूसरे परिवार को सौंप दिया गया था. 72 वर्षीय व्यक्ति के परिजनों ने रविवार देर रात कपूरबावड़ी पुलिस स्टेशन में गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया था, क्योंकि मरीज अस्पताल से लापता हो गया था. मरीज को 29 जून को ग्लोबल हब कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

अधिकारियों ने बताया कि बुजुर्ग का शव दो दिन पहले कोपरी में एक परिवार को सौंप दिया गया था, जिसने जल्द ही उसका अंतिम संस्कार कर दिया. एक अधिकारी ने बताया, 'मंगलवार को गठित नगर निकाय की एक टीम द्वारा की गई जांच में पाया गया कि कोपरी में उस परिवार के परिजन जीवित हैं और उसका एक कोविड अस्पताल में इलाज चल रहा है. अस्पताल ने कहा है कि दोनों रोगियों के इलाज के कागजात मिल गए थे, इसलिए यह गड़बड़ी हुई.’

बता दें कि महाराष्ट्र में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 5134 आंकड़े सामने आए हैं. जिसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 217121 हो गई है. महाराष्ट्र में एक दिन में 224 मौतें हुई हैं जिसके बाद कोविड-19 (Covid-19) से जान गंवाने वालों का आंकड़ा बढ़कर 9250 हो गया है. वहीं मुंबई (Mumbai) में कोरोना वायरस के एक महीने में अब तक के सबसे कम 785 नए केस आए हैं जिसके बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 86509 हो गई है. मुंबई में 64 नई मौतें हुई हैं जिसके बाद अब तक यहां मौतों का आंकड़ा 5002 हो गया है.

वहीं मुंबई में स्थित एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी बस्ती धारावी में अब कोरोना वायरस संक्रमण पर ब्रेक लगता दिख रहा है. मंगलवार को कोरोना वायरस का सिर्फ एक मामला सामने आया है, जिससे मुंबई के इस घनी आबादी वाले क्षेत्र में इसके कुल मामले बढ़कर 2,335 हो गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज