महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री की चेतावनी- हालात खराब हुए तो लगाना पड़ेगा लॉकडाउन

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के केस तेजी से बढ़ रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के केस तेजी से बढ़ रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Maharashtra Coronavirus Cases: मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि बृह्नमुंबई नगरपालिका और राज्य प्रशासन अगले 48 घंटों तक हालातों का जायजा लेगा, इसके बाद मुंबई में नाइट कर्फ्यू को लेकर फैसला किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 15, 2021, 8:14 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में लगातार बढ़ रहे कोरोना मामलों (Maharashtra Coronavirus Cases) के चलते लॉकडाउन (Lockdown) लगाने को लेकर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि जिन राज्यों में केस बढ़ेंगे वहां लॉकडाउन लगाया जा सकता है. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. अगर हालात खराब होते हैं तो जिन जिलों में कोरोना वायरस के ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं वहां लॉकडाउन लगाया जाएगा. टोपे ने कहा कि मुंबई में कोरोना संबंधी नियमों का पालन न करने वाले 20 लाख लोगों पर जुर्माना लगाया गया है.

वहीं मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने हाथ जोड़कर लोगों ने कोविड संबंधी नियमों का पालन करने की अपील की है. पेडनेकर ने कहा कि बृह्नमुंबई नगरपालिका और राज्य प्रशासन अगले 48 घंटों तक हालातों का जायजा लेगा, इसके बाद मुंबई में नाइट कर्फ्यू को लेकर फैसला किया जाएगा. बता दें उद्धव ठाकरे ने दो दिन पहले ही लोगों को लॉकडाउन को लेकर अंतिम चेतावनी दी थी. इसके बाद ही अब प्रशासन स्थिति की समीक्षा कर नाइट कर्फ्यू को लेकर विचार कर रहा है.

Youtube Video




ऐसे हो सकते हैं महाराष्ट्र के नए प्रतिबंध
मुंबई में फिलहाल ऑफिसों और दुकानों में कर्मचारियों की संख्या को लेकर प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं. वहीं धार्मिक स्थलों के लिए भी नए नियम लगाए जा सकते हैं. इसके अलावा सामाजिक कार्यक्रमों को लेकर भी अलग लागू किए जा सकते हैं. महाराष्ट्र में बढ़ते मामलों को देखते हुए नागपुर, अमरावती और परभनी में आंशिक लॉकडाउन लगाए गए हैं. ऐसी आशंका है कि उद्धव सरकार मुंबई के कंटेनमेंट जोन औऱ अन्य इलाकों के लिए नए प्रतिबंधों का ऐलान कर सकती है.

कोरोना वायरस पर लगाम लगाने के लिए महाराष्ट्र के उस्मानाबाद में रविवार को लगे 'जनता कर्फ्यू' के बीच प्रशासन ने लोगों से कोविड-19 दिशानिर्देशों का पालन करने और सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने की अपील की. इसके अलावा लातूर जिला प्रशासन ने भी रात्रिकालीन कर्फ्यू लागू करने का फैसला किया है.

महाराष्ट्र में रविवार को आए थे 16 हजार से ज्यादा केस
गौरतलब है कि महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 16,620 नए मामले सामने आए जो कि इस साल एक दिन में सामने आए सर्वाधिक नए मामले हैं. राज्य में नए मामलों के साथ ही संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 23,14,413 तक पहुंच गई. स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि इसी अवधि में कोविड-19 के 50 मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 52,861 हो गई.

राज्य में पिछले दो दिन से 15,000 से अधिक नए मामले सामने आ रहे थे और रविवार को यह आंकड़ा 16,000 के पार चला गया. विभाग के मुताबिक, राज्य में 8,861 मरीजों के संक्रमण से उबरने के बाद अब तक 21,34,072 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. राज्य में स्वस्थ होने की दर 92.21 फीसदी है जबकि मृत्यु दर 2.28 फीसदी है.

विभाग ने एक बयान में कहा कि महाराष्ट्र में फिलहाल 1,26,231 मरीज उपचाराधीन हैं. रविवार को 1,08,381 नमूनों की जांच की गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज