ED कार्यालय पहुंचे राज ठाकरे, हिरासत में लिए गए मनसे नेता

News18Hindi
Updated: August 22, 2019, 11:48 AM IST
ED कार्यालय पहुंचे राज ठाकरे, हिरासत में लिए गए मनसे नेता
राज ठाकरे के ED कार्यालय पहुंचने से पहले मनसे नेता को हिरासत में लिया गया

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह कदम कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए उठाया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 22, 2019, 11:48 AM IST
  • Share this:
मनसे प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) को धन शोधन मामले की जांच के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) के समक्ष पेश होना है जिसे देखते हुए  मुंबई पुलिस ने गुरुवार को दक्षिण मुंबई में ईडी कार्यालय के बाहर आपराधिक दंड संहिता (CRPC) की धारा 144 (गैरकानूनी तरीके से एकत्र होने पर प्रतिबंध) लगा दी. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह कदम कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए उठाया गया है.

अधिकारी ने कहा कि राज ठाकरे ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से ईडी कार्यालय के बाहर एकत्र नहीं होने की अपील की है, लेकिन हम कोई भी जोखिम नहीं लेना चाहते हैं. अधिकारी ने कहा कि ठाकरे को IL&FS जांच के सिलसिले में पूछताछ के लिए सुबह करीब 11 बजे बल्लार्ड पियर स्थित ईडी कार्यालय में पहुंच चुके हैं. वहीं इससे पहले, मनसे नेता संदीप देशपांडे को गुरुवार की सुबह पुलिस ने हिरासत में ले लिया.



अधिकारी ने बताया कि हमने माता रमाबाई अंबेडकर मार्ग पुलिस थाना के अधिकार क्षेत्र में धारा 144 लागू की है जहां ईडी कार्यालय स्थित है. उन्होंने कहा कि धारा 144 के तहत चार से अधिक व्यक्तियों को उस इलाके में एक जगह इकट्ठा होने पर प्रतिबंध होता है, जहां शांति भंग होने की आशंका रहती है. अधिकारी ने कहा कि मनसे प्रमुख के वहां पहुंचने से पहले ईडी कार्यालय के बाहर भीड़ जमा होने की आशंका को देखते हुए, एजेंसी कार्यालय के बाहर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है.
Loading...




उन्होंने कहा कि मध्य मुंबई के दादर क्षेत्र और अन्य स्थानों पर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए भारी संख्या में पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है. गौरतलब है कि मध्य मुंबई के दादर क्षेत्र को मनसे का गढ़ कहा जाता है. अधिकारी ने बताया कि मुंबई पुलिस ने बुधवार को एहतियातन कदम के तौर पर सीआरपीसी की धारा 149 के तहत मनसे के पदाधिकारियों और कई पार्टी कार्यकर्ताओं को नोटिस दिए. धारा 149 संज्ञेय अपराधों की रोकथाम से संबंधित है.

ईडी कोहिनूर सीटीएनएल इन्फ्रास्ट्रक्चर कंपनी में IL&FS द्वारा किए गए 450 करोड़ रुपये से अधिक के इक्विटी निवेश और ऋण में कथित अनियमितताओं की जांच कर रहा है. कंपनी, मुंबई के दादर क्षेत्र में कोहिनूर स्क्वायर टॉवर बना रही है. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना के वरिष्ठ नेता मनोहर जोशी के बेटे उन्मेष जोशी को भी इस मामले में ईडी ने तलब किया है.

जरुर पढ़ें: IL&FS घोटाला: राज ठाकरे से ED आज करेगी पूछताछ, बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2019, 11:48 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...