मुंबई में बारिश के चलते सड़कों पर जलभराव, आज हो सकती है भारी बारिश

मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक मुंबई में बुधवार को आसमान में बादल छाए रहेंगे और यहां तेज बारिश की भी संभावना है. (File Photo)
मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक मुंबई में बुधवार को आसमान में बादल छाए रहेंगे और यहां तेज बारिश की भी संभावना है. (File Photo)

Mumbai Rains: मुंबई में मंगलवार को हुई भारी बारिश के चलते सड़कों पर जलभराव की स्थिति बन गई जिसके चलते शहर के कई हिस्सों में यातायात भी प्रभावित रहा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 12:06 AM IST
  • Share this:
मुंबई. देश की आर्थिक राजधानी मुंबई (Mumbai) में मंगलवार को जोरदार बारिश हुई जिसके चलते शहर में जगह-जगह पर जलभराव की स्थिति पैदा हो गई. मुंबई के कई इलाकों में मंगलवार को काफी तेज बारिश हुई. बारिश के कारण हुए जलभराव के चलते शहर में कई जगहों पर ट्रैफिक जाम की स्थिति बन गई.  मौसम विभाग (India Meteorological Departmemt ) के मुताबिक बुधवार को भी मुंबई में तेज बारिश हो सकती है. मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक मुंबई में बुधवार को आसमान में बादल छाए रहेंगे और यहां तेज बारिश की भी संभावना है. बता दें गोवा के कुछ हिस्सों में भी पिछले कुछ दिनों से बारिश हो रही है.

वहीं मौसम विभाग की जानकारी के मुताबिक दिल्ली में आंशिक तौर पर बादल छाए रहने और हल्की बारिश से बुधवार को गर्मी से थोड़ी राहत मिलने के आसार हैं. शहर में पिछले 13 दिन से बारिश नहीं हुई है. मौसम विभाग के सफदरजंग केंद्र ने आठ सिंतबर को आखिरी बार बारिश दर्ज की थी. इस महीने में दिल्ली में केवल तीन दिन ही बारिश हुई है. बारिश नहीं होने से आद्रर्ता और गर्मी ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं.


दिल्ली में अब तक 80 फीसदी कम हुई बारिश
मौसम विभाग ने बुधवार को हल्की बारिश से तापमान में कमी की संभावना जतायी है. मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी में सितंबर में अब तक 80 फीसदी कम बारिश दर्ज की गई है. सफदरजंग केंद्र के मुताबिक इस माह में समान्य 102 मिलीमीटर बारिश के बजाय अभी तक 20.9 मिमी बारिश दर्ज की गई है. दिल्ली में अगस्त में 237 मिमी बारिश दर्ज की गई थी जो इस माह में पिछले सात साल में हुई सर्वाधिक बारिश है. बता दें देश के अलग-अलग हिस्सों में इन दिनों तेज बारिश देखने को मिल रही है. कई राज्यों में बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं और जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो रहा है.



ये भी पढ़ें- दिल्ली दंगों को लेकर स्टेट असेंबली पैनल ने जारी किया नोटिस तो SC पहुंचा फेसबुक

कर्नाटक में हालात काफी खराब
कर्नाटक में पिछले कुछ दिनों में हुई मूसलाधार बारिश के कारण राज्य की अधिकतर नदियां उफान पर हैं जबकि सबसे बुरी तरह प्रभावित उडुपी जिले में स्थिति गंभीर बनी हुई है. कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र (केएसएनडीएमसी) के अनुसार, भारी बारिश के कारण लगभग सभी बांध पूरी तरह से भर गए हैं, जिसकी वजह से उनके जलद्वार खोल दिये गए हैं.

केएसएनडीएमसी के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘जलद्वार खुलने से निचले क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है. हमने कई इलाकों में अलर्ट जारी किया है, फिर भी कुछ गांवों को समस्या का सामना करना पड़ेगा.’’ जल संसाधन विभाग के सूत्रों के अनुसार, कावेरी, हेमवती, कपिला और हरंगी नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं और बांधों से छोड़े जा रहे पानी से स्थिति और गंभीर होगी. (भाषा के इनपुट सहित)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज