महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में टली बड़ी दुर्घटना, पुलिस ने बरामद किया 10 किलो विस्फोटक

गढ़चिरौली पुलिस को शक है कि यह विस्फोटक नक्सलियों द्वारा किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए लगाया गया था. (File pic)

गढ़चिरौली पुलिस को शक है कि यह विस्फोटक नक्सलियों द्वारा किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए लगाया गया था. (File pic)

Maharashtra News: विस्फोटक मिलने के बाद बम स्क्वाड ने उसे तुरंत नष्ट करके बड़ी दुर्घटना को बाल-बाल टाल दिया. इस मामले की जांच में गढ़चिरौली पुलिस को कुछ नक्सल कमांडरों के नाम मिले हैं, जिनकी तलाश की जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2021, 7:48 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र के गढ़चिरौली (Garhchirauli) में पुलिस की सतर्कता से एक बड़ा हादसा होते-होते बाल-बाल टल गया. दरअसल गढ़चिरौली पुलिस ने पोमके कोटमी इलाके के मौजा काकोटी जंगल परिसर ने जमीन के अंदर छुपा कर रखे गए बड़ी मात्रा में विस्फोटक को बरामद कर बड़ी दुर्घटना को टालने में सफलता हासिल की. इस दौरान जमीन के अंदर से गढ़चिरौली पुलिस को करीब 10 किलो विस्फोटक मिला. गढ़चिरौली पुलिस को शक है कि यह विस्फोटक नक्सलियों द्वारा किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए लगाया गया था. फिलहाल पूरे मामले की जांच गढ़चिरौली पुलिस कर रही है.

दरअसल जमीन के अंदर विस्फोटक छुपाए जाने की गोपनीय जानकारी मिलने के बाद गढ़चिरौली पुलिस के पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल के मार्गदर्शन और अपर पुलिस अधीक्षक मनीष कलवानिया के नेतृत्व में एक विशेष टीम बनाई गई. इस टीम में पोमके कोटमी इलाके में तैनात जवान भी शामिल थे. टीम ने इलाके में सर्च ऑपेरशन करना शुरू किया तो मौजा काकोटी गांव के उत्तर भाग के जंगल परिसर में नक्सलियों के कैम्प होने का शक हुआ. टीम जैसे ही सर्च करने के लिए आगे बढ़ी तो उन्हें एक पूर्व दिशा में और एक पश्चिम दिशा में दो इलेक्ट्रिक वायर नजर आए.

ये भी पढ़ें- आखिर क्यों प्राइवेट अस्पतालों में वैक्सीनेशन को राजी हुई सरकार, समझिए कारण



जमीन के अंदर गड़ा मिला विस्फोटक
इलेक्ट्रिक वायर को देखकर गढ़चिरौली पुलिस को यह शक हो गया कि नक्सलवादी किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे. मौके पर तुरंत बम शोधक और नष्ट करने वाले स्क्वाड को बुलाया गया. बम स्क्वाड की टीम ने जब जांच की तो उन्हें जमीन के अंदर गड़ा करीब 10 किलो विस्फोटक मिला. विस्फोटक मिलने के बाद बम स्क्वाड ने उसे तुरंत नष्ट करके बड़ी दुर्घटना को बाल-बाल टाल दिया. इस मामले की जांच में गढ़चिरौली पुलिस को कुछ नक्सल कमांडरों के नाम मिले हैं, जिनकी तलाश की जा रही है.

गढ़चिरौली के पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल ने विस्फोटक को बरामद कर उन्हें नष्ट करने वाले पुलिस दल को बधाई दी और नक्सलियों को चेतावनी देते हुए कहा कि उनके खिलाफ जारी नक्सल विरोधी अभियान को और तेज किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज