• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • बारिश, बादल फटना, बाढ़ और भूस्खलन की घटनाओं ने तीन राज्यों में भारी तबाही मचाई

बारिश, बादल फटना, बाढ़ और भूस्खलन की घटनाओं ने तीन राज्यों में भारी तबाही मचाई

महाराष्ट्र में बारिश के कारण आई बाढ़ और भूस्‍खलन के चलते अब तक 136 लोगों  की मौत हो गई है.

महाराष्ट्र में बारिश के कारण आई बाढ़ और भूस्‍खलन के चलते अब तक 136 लोगों की मौत हो गई है.

Heavy Rains in Three States: महाराष्ट्र सरकार का कहना है कि इन घटनाओं में 50 लोग घायल भी हुए हैं. कर्नाटक और गुजरात के कई ज़िलों में भारी बारिश और बाढ़ ने कहर बरपाया है.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र के सतारा और रायगढ़ ज़िलों में 36 मृतकों के मिलने के बाद बाढ़ और भूस्खलन (Landslides in Maharshtra) के साथ भारी वर्षा की घटनाओं में मरने वालों की संख्या रविवार को 149 पहुंच गयी. जबकि 64 लोग अभी भी लापता हैं. राज्य सरकार का कहना है कि इन घटनाओं में 50 लोग घायल भी हुए हैं. कर्नाटक और गुजरात के कई ज़िलों में भारी बारिश और बाढ़ ने कहर बरपाया है.

पश्चिमी महाराष्ट्र और कोंकण क्षेत्र के प्रभावित ज़िलों से कुल 2,29, 074 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है. रविवार को बारिश रुकने के बाद बचाव कार्य तेजी पर है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को कोंकण क्षेत्र के रत्नागिरी ज़िले के बाढ़ प्रभावित चिपलुन का दौरा किया और क्षेत्र में स्थिति सामान्य करने के लिए सरकार की तरफ से हरसंभव प्रयास करने का वादा भी किया.



सरकार ने कहा कि अभी तक रायगढ़ में 60 व्यक्तियों की मौत हुई है. रत्नागिरी में 21, सतारा में 41, थाने में 12, कोल्हापुर में 7, मुंबई के उपनगरीय क्षेत्रों में 4 और सिंधुदुर्ग व पुणे में एक एक मौत हुई है. कुल मिलाकर कोल्हापुर, सांगली, सतारा और पुणे में 875 गांव मूसलाधार बारिश से प्रभावित हुए हैं.

कर्नाटक के कई हिस्सों में भारी बारिश जारी
कर्नाटक के कई हिस्सों में भारी वर्षा जारी है. कृष्णा, घाटप्रभा, भद्रा, तुंगा और दूसरी नदियां पूरे वेग के साथ बह रही हैं. अभी तक पूरे राज्य में अलग अलग घटनाओं में 9 लोग अपनी जानें गंवा चुके हैं. आज सुबह शिमोगा ज़िले के होलिहोंणुरू में एक 70 वर्षीय वृद्धा बाढ़ के पानी में बह गयी. राज्य के विभिन्न हिस्सों में अनेकों मवेशी बह गए हैं. अभी तक कर्नाटक के 283 गांव बाढ़ से प्रभावित बताये जा रहे हैं. मौसम विभाग की चेतावनी के अनुसार अगले एक सप्ताह तक भारी वर्षा की संभावना है.

ये भी पढ़ें:- Karnataka New CM: येडियुरप्पा के बाद किसे मिलेगी कर्नाटक की कमान? CM पद की रेस में हैं ये 8 नाम

गुजरात में बारिश से तबाही
पिछले 24 घंटों में गुजरात में हलकी से लेकर भारी बारिश की सूचनाएं हैं. जिसकी वजह से किसानों ने राहत की सांस ली है. रविवार को सौराष्ट्र, मध्य गुजरात और दक्षिण गुजरात में भारी वर्षा हुई. पिछले 12 घंटों में कुल मिलाकर 209 तालुका में बारिश हुई. सबसे ज्यादा 7. 25 इंच बारिश छोटाउदयपुर और राजकोट के लोधिका में हुई. कलावाद में 6 इंच और कापरड़ा में 5 इंच से ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गयी. मौसम विभाग के अनुसार उत्तरी गुजरात, मध्य गुजरात और दक्षिण गुजरात में भारी से लेकर अत्यधिक भारी वर्षा होने का अनुमान है.

बारिश की बात की जाए तो पिछले 24 घंटों में छोटाउदयपुर और लोधिका में सबसे ज्यादा 7. 25 इंच बारिश हुई और क्वांट में 6. 5 इंच बारिश रिकॉर्ड की गयी. जबकि 45 तालुकाओं में 2 इंच से ज्यादा वर्षा हुई है ,वहीं 94 तालुकाओं में एक इंच से ज्यादा बारिश की सूचना है.

बारिश की वजह से कुल 55 सड़कें जिसमें एक राज्य हाईवे भी शामिल है, बंद कर दी गयी हैं. कुल 55 सडकों में छोटा उदयपुर में 19, तापी में 3, वलसाड में 24, दांग में 2 सड़क बंद कर दी गयी हैं. राजकोट में एक राज्य राजमार्ग और तीन पंचायत में और जूनागढ़ में एक सड़क बंद है. ऊर्जा विभाग के अनुसार, 41 गांवों में बिजली बाधित है जो पीजीवीसीएल के अंतर्गत है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज