उद्धव ठाकरे ने कहा- अचानक लॉकडाउन लागू करना गलत था, इसे तुरंत हटा देना भी उतना ही गलत होगा
Maharashtra News in Hindi

उद्धव ठाकरे ने कहा- अचानक लॉकडाउन लागू करना गलत था, इसे तुरंत हटा देना भी उतना ही गलत होगा
ठाकरे ने कहा कि केंद्र सरकार ने थोड़ी मदद की है लेकिन वह कोई राजनीतिक छींटाकशी नहीं करेंगे.

महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामले (Maharashtra's Covid-19 Cases) बढ़ने के बीच ठाकरे ने यह भी कहा कि आने वाले बारिश के मौसम (Monsoon) में अत्यधिक सतर्क होने की जरूरत है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
मुंबई. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Maharashtra's CM Uddhav Thackeray) ने रविवार को कहा कि अचानक लॉकडाउन (Lockdown) लागू किया जाना गलत था और अब इसे तुरंत नहीं हटाया जा सकता.

महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामले (Maharashtra's Covid-19 Cases) बढ़ने के बीच ठाकरे ने यह भी कहा कि आने वाले बारिश के मौसम (Monsoon) में अत्यधिक सतर्क होने की जरूरत है. उन्होंने टीवी पर प्रसारित एक संदेश में कहा, 'अचानक लॉकडाउन लागू किया जाना गलत था इसे तुरंत हटा देना भी उतना ही गलत होगा हमारे लोगों के लिये यह दोहरा झटका होगा.'

ठाकरे ने कहा, पिछले कुछ दिनों में हमने कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी देखी है जो आगे भी जारी रहने का अनुमान है. हमें अगर कोरोना महामारी से बचना है कि सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा.







25 मई से देश में जारी है लॉकडाउन
उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) को फैलने से रोकने के लिये राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन (Nationwide Lockdown) की घोषणा की थी इसका प्रथम चरण 25 मार्च से 14 अप्रैल था, जिसे 15 अप्रैल से बढ़ाते हुए तीन मई तक (दूसरा चरण) किया गया था इसका तीसरा चरण चार मई से 17 मई तक था और अब लॉकडाउन 4.0 कुछ छूट के साथ 18 मई से 31 मई तक है.

ठाकरे ने कहा कि केंद्र सरकार ने थोड़ी मदद की है लेकिन वह कोई राजनीतिक छींटाकशी नहीं करेंगे. उल्लेखनीय है कि ठाकरे की पार्टी शिवसेना ने पिछले साल भाजपा से वर्षों पुराना अपना नाता तोड़ लिया था.

सामान की कमी का कर रहे सामना
मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा, ‘‘महाराष्ट्र सरकार को अभी तक माल एवं सेवा कर (जीएसटी) की बकाया राशि नहीं मिली है. ट्रेन टिकट किराये (प्रवासी श्रमिकों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाने के लिये) का केंद्र का हिस्सा मिलना अभी तक बाकी है. कुछ दवाइयों की अब भी कमी है शुरूआत में, हमने पीपीई किट और अन्य उपकरणों की कमी का भी सामना किया.’’

14 दिन में दोगुने हो रहे केस
इससे पहले शनिवार को उद्धव ठाकरे ने बताया था कि मुंबई में कोविड -19 मरीजों की संख्या 14 दिनों की अवधि में दोगुनी हो रही है. ठाकरे ने बीएमसी द्वारा संचालित अस्पतालों के डॉक्टरों के साथ बातचीत करने के बाद शनिवार को यह जानकारी दी.

डॉक्टरों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान ठाकरे ने महामारी को रोकने के लिए पिछले दो महीनों से किए जा रहे प्रयासों के लिए डॉक्टरों की प्रशंसा की और सफलता का विश्वास दिलाया.

ठाकरे के हवाले से बयान में कहा गया, ‘भले ही मुंबई में मरीजों की संख्या बढ़ रही है, लेकिन मरीजों की संख्या अब 14 दिनों के भीतर दोगुनी हो रही है.’

ये भी पढ़ें-
उद्धव बोले-और खराब हो सकते हैं महाराष्ट्र के हालात,घरेलू उड़ान के लिए मिले समय

सर्वाधिक मृत्यु दर: अहमदाबाद में कोविड 19 अस्पताल कैसे बना कब्रगाह?
First published: May 24, 2020, 4:42 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading