लाइव टीवी

केशव प्रसाद मौर्य बोले- कमल पर बटन दबाना मतलब पाकिस्तान पर अपने आप परमाणु बम गिर जाना

News18Hindi
Updated: October 14, 2019, 10:42 AM IST
केशव प्रसाद मौर्य बोले- कमल पर बटन दबाना मतलब पाकिस्तान पर अपने आप परमाणु बम गिर जाना
केशन प्रसाद मौर्य. (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र (Maharashtra) और हरियाणा (Haryana) में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) होने हैं. दोनों ही राज्यों में 24 अक्टूबर को मतगणना की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2019, 10:42 AM IST
  • Share this:
ठाणे. महाराष्ट्र (Maharashtra) और हरियाणा (Haryana) में 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) को लेकर सभी दलों ने अभी से कमर कस ली है. मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए सभी पार्टियों के दिग्गज नेताओं ने रैलियां भी शुरू कर दी हैं. इसी कड़ी में महाराष्ट्र के ठाणे विधानसभा क्षेत्र (Thane Assembly Constituency) के मीरा भयंदर में भाजपा (BJP) उम्मीदवार नरेंद्र मेहता के प्रचार में पहुंचे उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (keshav prasad maurya) ने कहा कि बीजेपी को वोट देने का मतलब है पाकिस्तान (Pakistan) में अपने आप परमाणु बम (Atomic Bomb) गिर जाना.

जनसभा को संबोधित करते हुए केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, अगर आप लोग कमल के फूल पर बटन दबाते हैं तो इसका मतलब है कि पाकिस्तान में अपने आप परमाणु बम गिर जाएगा. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में एक बार फिर भाजपा को वोट दें और पार्टी को जीत दिलाएं. मौर्य ने कहा कि मुझे भरोसा है कि आने वाले चुनाव में एक बार फिर कमल खिलेगा. विपक्ष पर निशाना साधते हुए केशव प्रसाद मौर्य ने कहा लक्ष्मी देवी हथेली, साइकिल या घड़ी पर नहीं बैठती हैं बल्कि वह कमल पर बैठती हैं. कल का फूल विकास का प्रतीक हैं.

इसे भी पढ़ें :- पीएम मोदी ने शरद पवार पर एक पुराने वीडियो के ज़रिए कसा तंज़

 Maharashtra, Haryana, Assembly Elections, केशव प्रसाद मौर्य, Congress, BJP, NCP, Pakistan, Atomic Bomb
विधानसभा चुनाव के लिए जलगांव में चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फाइल फोटो)


उधर महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए जलगांव में चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षी दलों ने हमला बोला है. उन्‍होंने कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने कहा कि थके हुए साथी, एक-दूसरे के लिए सहारा तो बन सकते हैं, लेकिन महाराष्ट्र के सपनों और यहां के युवाओं की आकांक्षाओं को पूरा करने का माध्यम नहीं हो सकते. अनुच्छेद 370 के मुद्दे पर एक बार फिर विपक्ष को घेरा और चुनौती दी कि वह अपने घोषणा-पत्र में इसके रद्द प्रावधानों को बहाल करने की घोषणा करें. उन्होंने कहा कि ऐसा लग रहा है कि अनुच्छेद 370 पर विपक्ष पड़ोसी देश की जुबान बोल रहा है.

Maharashtra, Haryana, Assembly Elections, केशव प्रसाद मौर्य, Congress, BJP, NCP, Pakistan, Atomic Bomb
हाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए कोल्हापुर जिले में रैली करते हुए अमित शाह.


इसे भी पढ़ें :- कितने PM आए और गए किसी में '56 इंच' के सीने वाला दम नहीं था: अमित शाह
Loading...

उधर महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए कोल्हापुर जिले में रैली करते हुए अमित शाह ने कहा कि लोगों को कांग्रेस और राकांपा के नेताओं से यह पूछना चाहिए कि क्या वे जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को हटाए जाने संबंधी राजग सरकार के निर्णय का समर्थन करते हैं. शाह ने कहा, 'कई सरकारें आईं और गईं, कई प्रधानमंत्री आए और गए. किसी ने अनुच्छेद 370 को हटाए जाने का साहस नहीं दिखाया था. लेकिन, 56 इंच के सीने वाले व्यक्ति ने इसे एक बार में ही खत्म कर दिया'. उन्होंने जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 लागू किए जाने के लिए विपक्षी पार्टी कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया. (भाषा इनपुट के साथ)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महाराष्ट्र से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 10:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...