महाराष्ट्र में सोमवार से खुलेंगे मंदिर और धार्मिक स्थल, मास्क पहनना समेत इन नियमों का पालन करना होगा अनिवार्य

महाराष्ट्र में सोमवार 16 नवंबर से सभी धार्मिक स्थल दोबारा से खुल जाएंगे.
महाराष्ट्र में सोमवार 16 नवंबर से सभी धार्मिक स्थल दोबारा से खुल जाएंगे.

Religious places re-open in Maharashtra: आदेश के अनुसार, मंदिर या धार्मिक स्थलों के बाहर चप्पल, जूते भले ही उतारे जाएंगे लेकिन मास्क हर हाल में पहनना अनिवार्य होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2020, 10:18 PM IST
  • Share this:
मुंबई. देशभर में आज दिवाली (Diwali 2020) का त्योहार मनाया जा रहा है. दिवाली के मौके पर महाराष्ट्र सरकार (Government of Maharashtra) ने दोबारा से मंदिर समेत सभी धार्मिक स्थलों (Religious places) को खोलने का आदेश जारी किया है. सरकार के आदेश के अनुसार सोमवार (16 नवंबर) से सभी धार्मिक स्थल खुलेंगे.

आदेश के अनुसार, मंदिर या धार्मिक स्थलों के बाहर चप्पल, जूते भले ही उतारे जाएंगे लेकिन मास्क हर हाल में पहनना अनिवार्य होगा. इसके साथ ही केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए कोरोना नियम का पालन करना होगा. क्योंकि अगर एक भी कोरोना मरीज भीड़-भाड़ वाले इलाके में बिना मास्क घूमता है तो वो कम से कम 400 अन्य लोगों को संक्रमित कर सकता है. कुछ दिनों पहले राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस बात के संकेत दिए थे कि दीवाली के बाद राज्य में धार्मिक स्थलों को दोबारा से खोल दिए जाएंगे. मंदिरों को दोबारा से खोले जाने को लेकर बीजेपी ने उद्धव ठाकरे के खिलाफ प्रदर्शन भी किया था.


राज्यपाल ने उद्धव ठाकरे को लिखा था खत
कुछ दिनों पहले बंद पड़े धार्मिक स्थलों को दोबारा खुलवाने को लेकर महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को एक चिट्ठी लिखी थी. उन्होंने लिखा था कि क्या मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को भगवान की ओर से कोई चेतावनी मिली है कि वो धार्मिक स्थलों को दोबारा खोले जाने पर टाल मटोल करते रहें.





राज्यपाल ने लिखा था कि एक जून से सभी राज्य में धार्मिक स्थलों को खोलने का ऐलान किया गया था, लेकिन चार महीने बीत जाने के बाद भी इस दिशा में कोई भी कदम नहीं उठाया गया है. यह विडंबना है कि सरकार ने एक तरफ बार और रेस्तरां खोल दिया है, लेकिन मंदिर जैसे धार्मिक स्थानों को नहीं खोला गया है. आप हिंदुत्व के मजबूत पक्षधर रहे हैं. आपने भगवान राम के लिए सार्वजनिक रूप से अपनी भक्ति व्यक्त की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज