Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    चंद्रकांत पाटिल बोले- समस्या है तो शरद पवार के पास जाएं, वही चला रहे सरकार

    महाराष्ट्र बीजेपी का तंज महाराष्ट्र की सरकार शरद पवार चला रहे.
    महाराष्ट्र बीजेपी का तंज महाराष्ट्र की सरकार शरद पवार चला रहे.

    महाराष्ट्र (Maharashtra) बीजेपी के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (chandrakant patil) ने कहा है कि उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को भले ही लगता है कि सरकार वो चला रहे हैं जबकि महाराष्ट्र सरकार की कमान राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) के हाथ में है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 30, 2020, 11:15 AM IST
    • Share this:
    मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) बीजेपी ने एक बार फिर उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) सरकार पर बड़ा हमला बोला है. महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (chandrakant patil) ने कहा है कि उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को भले ही लगता है कि सरकार वो चला रहे हैं जबकि महाराष्ट्र सरकार की कमान राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) के हाथ में है. चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि सीएम उद्धव ठाकरे से मिलने का कोई फायदा नहीं है.

    चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि महाराष्ट्र में अगर किसी मुद्दे पर आपको बात करनी है और समस्या का हल निकालना है तो आपको उद्धव ठाकरे की जगह शरद पवार से मिलना चाहिए. उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे से मिलने से कोई फायदा नहीं है क्योंकि ठाकरे के हाथ में कुछ भी नहीं है. दरअसल, बिजली के बढ़े दाम के मुद्दे पर एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे ने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की थी. इसके जवाब में पाटिल ने कहा कि मुझे ये तो नहीं पता कि राज्यपाल कोश्यारी ने राज ठाकरे से क्या कहा.

    चंद्रकांत पाटिल ने कहा, 'मैं तो यही कहूंगा कि अगर किसी तरह की कोई समस्या है तो शरद पवार के पास जाना चाहिए क्योंकि सरकार वही चला रहे हैं. सीएम उद्धव ठाकरे से मिलने से कोई फायदा नहीं है.' पाटिल ने चुटकी लेते हुए कहा कि महाराष्ट्र में किसी भी समस्या के हल के लिए हर किसी को शरद पवार से मिलना चाहिए.
    इसे भी पढ़ें :- बिजली के बढ़े हुए बिलों को लेकर राज्यपाल कोश्यारी से मिले राज ठाकरे, उद्धव सरकार पर उठाए सवाल



    उन्होंने कहा कि शरद पवार और देवेंद्र फडणवीस आसानी से उपलब्ध हैं लेकिन सीएम उद्धव बाहर यात्रा के लिए कभी आते नहीं इसलिए उन्हें किसी समस्या का पता भी नहीं होता है. पाटिल ने दावा किया है कि पिछले नौ महीनों में उन्हें मुख्यमंत्री कार्यालय को लिखी अपनी चिट्ठी का एक का भी उत्तर नहीं मिला है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज