एकनाथ खड़से को राज्यपाल कोटे से विधानपरिषद भेज सकती है महाराष्ट्र कैबिनेट

एकनाथ खडसे
एकनाथ खडसे

महाराष्ट्र की सरकार में शामिल राजनीतिक दल एनसीपी (NCP) में शामिल हुए एकनाथ खड़से (Eknath Khadse) को राज्यपाल कोटे से विधानपरिषद भेजा जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 29, 2020, 8:02 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) कैबिनेट जल्द ही राज्यपाल के कोटे से विधान परिषद में भेजे जाने वाले संभावित लोगों के नाम राजभवन को दे सकती है. कहा जा रहा है कि शिवसेना (Shiv Sena) की अगुवाई में कांग्रेस और एनसीपी की गठबंधन सरकार 12 नाम भेज सकती है. तीनों दलों के 4-4 लोगों के नाम भेजे जा सकते हैं. एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार हाल ही में एनसीपी में शामिल हुए एकनाथ खड़से (Eknath Khadse) को भी विधान परिषद भेजा जा सकता है. रिपोर्ट के अनुसार राजू शेट्टी, उर्मिला मांतोडकर को भी सदन भेजा जा सकता है. माना जा रहा है कि उर्मिला के संपर्क में शिवसेना भी है.

महाराष्ट्र सरकार में कई नेता असंतुष्ट बताए जा रहे हैं. ऐसे में उन्हें साधने के लिए महाराष्ट्र कैबिनेट राज्यपाल कोटे से विधान परिषद भेजना चाहती है.  बता दें महाराष्ट्र भाजपा के पूर्व नेता एकनाथ खडसे, उनकी बेटी रोहिणी और उनके कई समर्थक बीते शुक्रवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) में शामिल हो गये. उन्होंने राकांपा का जनाधार उससे भी दोगुनी गति से बढ़ाने का संकल्प लिया, जिस गति से उन्होंने महाराष्ट्र में कभी भाजपा के लिये काम किया था.

मंत्रिमंडल में भी जाएंगे खड़से?
भूमि पर कब्जा करने के आरोपों को लेकर 2016 में तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस के मंत्रिमंडल से हटाये जाने के बाद से नाराज चल रहे 68 वर्षीय खडसे ने 21 अक्टूबर को भाजपा छोड़ दी थी. उसी दिन, प्रदेश राकांपा प्रमुख जयंत पाटिल ने उनके (खडसे के) शरद पवार नीत पार्टी में शामिल होने की घोषणा की थी. राकांपा, राज्य के सत्तारूढ़ गठबंधन में शिवसेना और कांग्रेस के साथ शामिल है. राज्य की यह महा विकास अघाड़ी सरकार 11 महीने पहले सत्ता में आई थी.
इससे पहले एनसीपी मुखिया ने शरद  पवार ने मीडिया में आई इन खबरों को भी खारिज कर दिया कि एमवीए सरकार में राकांपा के किसी मंत्री को पद से हटा कर मंत्रिमंडल में खडसे को शामिल करने का मार्ग प्रशस्त किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज