लाइव टीवी

दोबारा CM बनने के बाद देवेंद्र फडणवीस का भव्‍य स्‍वागत, बोले- 'मोदी है तो मुमकिन है'

News18Hindi
Updated: November 23, 2019, 4:38 PM IST
दोबारा CM बनने के बाद देवेंद्र फडणवीस का भव्‍य स्‍वागत, बोले- 'मोदी है तो मुमकिन है'
मुंबई में हुआ देवेंद्र फडणवीस का स्‍वागत.

देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने शनिवार सुबह ही महाराष्‍ट्र (Maharashtra) के मुख्‍यमंंत्री पद की शपथ ली है. इसे लेकर पूरे महाराष्‍ट्र में बीजेपी (BJP) समर्थकों के बीच जश्‍न का माहौल है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 23, 2019, 4:38 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में चले लंबे राजनीतिक घटनाक्रम के बाद शनिवार को देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली. उनके साथ ही एनसीपी नेता अजित पवार (Ajit Pawar) ने उप मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली. सुबह शपथ ग्रहण के बाद शाम को महाराष्‍ट्र में बीजेपी (BJP) समर्थक जश्‍न मना रहे हैं. इन सबके बीच मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी मुंबई स्थित बीजेपी ऑफिस में पहुंचे. वहां कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने उनका भव्‍य स्‍वागत किया. इस दौरान अपने संबोधन में फडणवीस ने कहा, 'मोदी है तो मुमकिन है.' उन्‍होंने कहा कि आप सभी के समर्थन का धन्‍यवाद. हम महाराष्‍ट्र में मजबूत और स्थिर सरकार देंगे.

प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनने के साथ ही पूर महाराष्‍ट्र में बीजेपी समर्थकों के बीच जश्‍न का माहौल है. मुंबई स्थित बीजेपी ऑफिस में भी सैकड़ों कार्यकर्ता जुटे हैं. सीएम फडणवीस ने कहा कि हमारी सरकार पूरे पांच साल तक चलेगी.

महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में अचानक बदले राजनीतिक घटनाक्रम के बाद शिवसेना (Shiv Sena), एनसीपी (NCP) और कांग्रेस (Congress) को झटका लगा है. इस पर शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने अजित पवार पर विधायकों को धोखे से अपने साथ ले जाने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा, 'एनसीपी नेता अजित पवार (Ajit Pawar) के साथ गए 8 में से 5 नेता वापस लौट आए हैं. उनसे झूठ बोला गया, उन्‍हें कार में बैठाया गया, उनकी किडनैपिंग तक की कोशिश हुई.'

शिवसेना नेता संजय राउत ने दी सफाई.


शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, 'हम धनंजय मुंडे के संपर्क में हैं. अजित पवार के वापस लौटने की संभावनाएं हैं. अजित पवार को ब्‍लैकमेल किया गया है. इसके पीछे कौन है, उसका नाम जल्‍द ही शिवसेना के मुखपत्र सामना में सामने लाया जाएगा.' उन्‍होंने बीजेपी को चुनौती देते हुए कहा, 'अगर हिम्‍मत है तो विधानसभा में बहुमत साबित करके दिखाएं.'

महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में शनिवार को तेजी से बदले राजनीतिक घटनाक्रम के बाद एनसीपी (NCP) और शिवसेना (Shiv Sena) ने संयुक्‍त प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करके बीजेपी (BJP) पर निशाना साधा. इसके बाद कांग्रेस (Congress) ने अलग प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करके बीजेपी पर निशाना साधा. कांग्रेस की इस प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में अहमद पटेल के साथ मल्लिकार्जुन खड़गे भी मौजूद थे. उन्होंने कहा कि हम राजनीतिक, कानूनी रूप से लड़ेंगे.

कांग्रेस नेता अहमद पटेल (Ahmed Patel) ने इस दौरान कहा, 'महाराष्‍ट्र में बिना बैंड बाजा और बारात के मुख्‍यमंत्री व डिप्‍टी सीएम की शपथ ली गई. उन्‍हें बिना किसी जांच के शपथ दिलाई गई. नेता चोरी छिपे जाते हैं और शपथ लेते हैं. सबकुछ छिपाकर किया गया. ऐसे में मुझे बू आती है कि कहीं ना कहीं कुछ गलत हुआ गया है.' अहमद पटेल ने कहा कि इन्‍होंने बेशर्मी की इंतेहा को भी पार कर दिया है. आज का इतिहास काली स्‍याही से लिखा जाएगा.
Loading...

कांग्रेस ने की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस.


वहीं सरकार बनाने में देरी के सवाल पर पटेल ने कहा, 'एक प्रक्रिया चल रही थी एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना के बीच. पहले तय हुआ था कि अपने सहयोगियों को विश्‍वास में लेना है. हमने सभी दलों को विश्‍वास में लिया था. एक मीटिंग उद्धव ठाकरे के साथ हुई. दो मीटिंग शरद पवार के साथ हुई. कुछ मुद्दों पर आज 12 बजे मिलने वाले थे.'

इस दौरान अहमद पटेल ने कहा कि सुबह के कांड की आलोचना के लिए शब्‍द नहीं. हमारे विधायक हमारे साथ हैं. हमें कुछ मुद्दों पर थोड़ा समय लगा. उन्‍होंने कहा कि इस मुद्दे पर शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस साथ हैं. और हमें विश्‍वास है कि हम बीजेपी को विश्‍वास मत में परास्‍त करेंगे. कांग्रेस के सभी विधायक हमारे साथ हैं. दो विधायक अभी गांव गए हैं, लेकिन वे भी हमारे साथ हैं.

वहीं शिवसेना और एनसीपी ने संयुक्‍त प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करके बीजेपी (BJP) पर हमला बोला. साथ ही इस प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में शरद पवार (Sharad Pawar) अजित पवार के साथ गए एनसीपी के विधायकों को भी सामने लाए थे.

एनसीपी के विधायकों का कहना है कि उन्‍हें गुमराह करके राजभवन ले जाया गया. उनके मुताबिक उनके पास रात 12 बजे एनसीपी नेता अजित पवार का फोन आया था. उन्‍होंने विधायकों से कहा था कि कहीं चर्चा के लिए जाना है. इसके बाद ही प्रदेश में राजनीतिक घटनाक्रम अचानक बदल गया.

शिवसेना और एनसीपी ने की संयुक्‍त प्रेस कॉन्‍फ्रेंस.


प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में एनसीपी के विधायक राजेंद्र शिंगणे ने कहा, 'अजित पवार ने मुझे फोन करके कहा था कि हमें किसी बात पर चर्चा करनी है. इसके बाद मुझे अन्‍य विधायकों के साथ राजभवन ले जाया गया. इससे पहले कि हम कुछ समझ पाते शपथ ग्रहण समारोह खत्‍म हो गया था. इसके बाद मैं तुरंत पवार साहब (शरद पवार) के पास गया और उन्‍हें इसकी जानकारी दी. मैं शरद पवार और एनसीपी के साथ हूं.'

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने इस पर कहा कि अजित पवार ने जो किया है उसके लिए उनके खिलाफ प्रक्रिया के तहत कार्रवाई की जाएगी. अजित के साथ गए विधायक मेरे साथ हैं. उन्‍होंने कहा कि महाराष्‍ट्र में सरकार हम ही बनाएंगे. सरकार हम ही बनाएंगे इसमें कोई दो राय नहीं है. बीजेपी ने चोरी छिपे सरकार बनाई है. हमारे पास सरकार बनाने के लिए जरूरी आंकड़े हैं.

यह भी पढ़ें: EXCLUSIVE: BJP को समर्थन देने वाले NCP के 9 विधायक चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली भेजे गए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महाराष्ट्र से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 23, 2019, 4:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...