Home /News /maharashtra /

maharashtra congress chief veiled threat to mva alleging backstabbing by ncp said sonia gandhi to take call on mva

महाराष्ट्र में गठबंधन से हटेगी कांग्रेस? NCP पर फिर आरोप लगा प्रदेश अध्यक्ष बोले, सोनिया गांधी करेंगी फैसला

महाराष्ट्र कांग्रेस ने एनसीपी पर दोस्ती की आड़ में दगाबाजी का आरोप लगाया है.

महाराष्ट्र कांग्रेस ने एनसीपी पर दोस्ती की आड़ में दगाबाजी का आरोप लगाया है.

NCP Congress Tussle In Maharashtra: एनसीपी पर कांग्रेंस की जड़ें खोदने और बीजेपी से हाथ मिलाकर पीठ में छुरा घोंपने का आरोप लगा रहे महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा है कि मैंने एनसीपी की दगाबाजी के बारे में सोनिया गांधी और राहुल गांधी को बता दिया है. महाविकास अघाड़ी गठबंधन के बारे में अब वही फैसला लेंगे.

अधिक पढ़ें ...

    मुंबईः महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार में गठबंधन में शामिल एनसीपी और कांग्रेस के बीच खटपट बढ़ती जा रही है. एनसीपी पर कांग्रेस की जड़ें खोदने के आरोप लगा रहे महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने अब गठबंधन में बने रहने को लेकर अप्रत्यक्ष चेतावनी दी है. नाना पटोले ने पिछले हफ्ते गोंदिया और भंडारा जिला परिषद चुनावों में एनसीपी पर बीजेपी से हाथ मिलाकर कांग्रेस की पीठ में छुरा घोंपने का आरोप लगाया था. अब उन्होंने कहा है कि मैंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी को एनसीपी की हरकतों से अवगत करा दिया है. अब फैसला कांग्रेस हाईकमान लेगा.

    नाना पटोले से पूछा गया कि क्या महाराष्ट्र के महाविकास अघाड़ी गठबंधन को कोई खतरा है? इस सवाल पर उनका कहना था, “कुछ भी हो सकता है. ये फैसला कांग्रेस हाईकमान को लेना है.” नाना पटोले ने आरोप लगाया कि एनसीपी महाराष्ट्र से कांग्रेस को खत्म करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रही है. पिछले दो साल में एनसीपी ने कांग्रेस के कई प्रमुख कार्यकर्ताओं को अपने पाले में खींच लिया है. उन्होंने आरोप लगाया कि एनसीपी ने भिवंडी में पार्टी के 17 पार्षदों को तोड़कर अपने साथ मिलाया. उसके बाद अमरावती में हमारी पीठ में खंजर घोंपा.

    पटोले ने आरोप लगाते हुए कहा कि गोंदिया जिला परिषद अध्यक्ष के चुनाव में जीतने के लिए एनसीपी ने प्रतिद्वंद्वी बीजेपी से हाथ मिला लिया. भंडारा में भी यही सब हुआ. गोंदिया और भंडारा को लेकर मैंने खुद एनसीपी के नेता जयंत पाटिल और प्रफुल्ल पटेल से बात की, लेकिन उन्होंने कोई सहयोग नहीं किया. पटोले ने कहा कि 2019 में बीजेपी को सत्ता में आने से रोकने के लिए कांग्रेस ने एनसीपी और शिवसेना के साथ गठबंधन किया था. उस समय भी हमने मुख्यमंत्री पद पर दावा नहीं किया. गठबंधन चलाने के लिए तब कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाया गया था. लेकिन एनसीपी दोस्ती की आड़ में कांग्रेस के साथ दगाबाजी कर रही है. ये हमें मंजूर नहीं है.

    नाना पटोले पिछले कुछ समय से लगातार एनसीपी पर पीठ में खंजर घोंपने का आरोप लगा रहे हैं. कुछ समय पहले महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री और एनसीपी नेता अजीत पवार ने पलटवार करते हुए कहा था कि पटोले को कुछ भी बोलने से पहले अपना अतीत देख लेना चाहिए. पहले वह कांग्रेस में थे, फिर बीजेपी में गए, उसके बाद फिर से कांग्रेस में आ गए. पटोले ने भी तो बीजेपी की पीठ में छुरा घोंपा है. अजित पवार के इस बयान पर प्रतिक्रिया में पटोले ने कहा कि यह पूरे महाराष्ट्र और देश को पता है कि मैंने बीजेपी का साथ क्यों छोड़ा था. यह कोई छिपी हुई बात नहीं है.

    Tags: Congress, Maharashtra, MVA Government, Nana Patole, NCP

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर