Maharashtra Coronavirus: महाराष्ट्र में फिर लॉकडाउन के आसार, 2 दिन में होगा फैसला; कई जिलों में नाइट कर्फ्यू लागू

महाराष्ट्र में लॉकडाउन? (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र में लॉकडाउन? (फाइल फोटो)

Maharashtra Coronavirus: महाराष्ट्र में कोविड -19 मामलों की स्थिति की समीक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण बैठक एक या दो दिन में की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 9, 2021, 12:24 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण (Maharashtra Coronavirus) के बढ़ते मामलों के चलते आने वाले कुछ दिनों में पाबंदियां बढ़ाई जा सकती है. सूत्रों ने CNN-NEWS18 को बताया कि कोरोना के बढ़ रहे संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए महाराष्ट्र सरकार अगले कुछ दिनों में सख्त कदम उठा सकती है. राज्य में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच अटकलें हैं कि सरकार राज्य में दोबारा लॉकडाउन लगा सकती है.

मिली जानकारी के अनुसार, फिलहाल लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगाने का कोई प्रस्ताव नहीं है. इस बीच सूत्रों ने कहा कि मामलों में तेजी से वृद्धि के कारण सरकार अपने सभी विकल्पों पर ध्यान दे रही है.  भविष्य की कार्रवाई का फैसला समीक्षा बैठक में किया जाएगा. मौजूदा घटनाक्रम से अवगत अधिकारियों ने कहा कि अगले दो-तीन दिनों में सीएम उद्धव ठाकरे भी राज्य के लोगों को संबोधित करेंगे.

प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने पर जुर्माना
मुंबई के संरक्षक मंत्री असलम शेख ने कहा कि 'लोगों पर कोविड -19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने के लिए जुर्माना लगाया जा रहा है और जब भी जरूरत होगी तब लॉकडाउन पर निर्णय लिया जाएगा.' उन्होंने कहा कि ' जरूरत पड़ने पर स्थानीय अधिकारियों को लॉकडाउन पर निर्णय लेने का अधिकार दिया गया है. अगर संख्या इसी तरह बढ़ती रही तो शहर में नाइट क्लबों के बंद होने की संभावना है. अगर मामलों में बढ़त जारी रही तो नाइट कर्फ्यू या आंशिक लॉकडाउन की संभावना से इनकार नहीं कर सकते,' शेख ने कहा, 'मास्क नहीं पहनने के लिए लोगों पर जुर्माना लगा रहे हैं. हमें समुद्र तटों और गेटवे जैसी जगहों को बंद करना पड़ सकता है. लोगों को सावधानी बरतने की जरूरत है.'
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 8,744 नए मामले, 22 की मौत


बता दें महाराष्ट्र में लगातार तीन दिन तक प्रतिदिन कोरोना वायरस संक्रमण के 10 हजार नए मामले सामने आने के बाद सोमवार को 8,744 नए मामले सामने आए. इसके अलावा कोविड-19 से 22 और मरीजों की मौत हो गई.

स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि इसके साथ ही राज्य में कुल मामले बढ़कर 22,28,471 हो गए और महामारी से मरने वालों की संख्या 52,500 पर पहुंच गई. उन्होंने कहा कि राज्य में अब तक 20,77,112 मरीज ठीक हो चुके हैं और अभी 97,637 मरीज उपचाराधीन हैं. मुंबई में संक्रमण के 1,014 नए मामले सामने आए और चार मरीजों की मौत हो गई. इसके साथ ही कुल मामले बढ़कर 3,34,583 हो गए.

इन जिलों में आंशिक लॉकडाउन के आसार, लगाया गया नाइट कर्फ्यू
वायरस फैलने पर अंकुश लगाने के लिए राज्य के कई जिलों ने पहले ही उपाय कर लिए हैं. नासिक में जिला प्रशासन ने जिले में कोरोनोवायरस के मामलों की संख्या बढ़ने के बाद मंगलवार से कई प्रतिबंधों के साथ वीकेंड लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है.

प्रशासन ने कहा कि 15 मार्च से कोई भी शादियों की अनुमति नहीं दी जाएगी. जिन विवाह समारोहों को पहले अनुमति मिल गई थी, उन्हें 15 मार्च तक करना होगा. इसके बाद कोई नई अनुमति नहीं दी जाएगी.  नासिक डिवीजन में अब तक कोरोना के 3,02,902 मामले हो चुके हैं और 5,311 लोगों की मौत हो चुकी है.

इसी तरह ठाणे प्रशासन ने शहर के 11 हॉटस्पॉट में 13 से 31 मार्च के बीच तालाबंदी की घोषणा की है. ठाणे नगर आयुक्त विपिन शर्मा द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि पिछले कुछ दिनों में इन क्षेत्रों में कोविड मामलों में वृद्धि के कारण निर्णय लिया गया. बीते साल लगाये गये लॉकडाउन के सारे नियम जिले में लागू होंगे.

इससे पहले रंगाबाद में जिला प्रशासन ने रविवार को रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक 11 मार्च से 4 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लगाने का आदेश दिया था. महाराष्ट्र के मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि इसके साथ ही वीकेंड पर पूरी तरह से लॉकडाउन रहेगा. शेख ने रविवार को यह भी कहा था कि अगर स्थिति 8 से 10 दिनों के भीतर नियंत्रण में नहीं आई तो आशिंक लॉकडाउन लगाया जा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज