Home /News /maharashtra /

महाराष्ट्रः एनसीपी नेता एकनाथ खडसे के दामाद को ED ने किया गिरफ्तार, देर रात तक पूछताछ

महाराष्ट्रः एनसीपी नेता एकनाथ खडसे के दामाद को ED ने किया गिरफ्तार, देर रात तक पूछताछ

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) (फाइल फोटो)

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) (फाइल फोटो)

NCP Leader Eknath Khadse: 2016 में एकनाथ खडसे ने देवेंद्र फडणवीस की कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था. एकनाथ खडसे पर जमीन खरीद में अनियमितता का आरोप था.

    मुंबई. प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता एकनाथ खडसे (Eknath Khadse) के दामाद गिरीश चौधरी (Girish Chaudhary) को गिरफ्तार किया है. ये गिरफ्तारी पुणे में 2016 में हुई एक लैंड डील मामले में हुई है. ईडी ने मुंबई स्थित कार्यालय में मंगलवार देर रात तक चौधरी से पूछताछ की. माना जा रहा है कि केंद्रीय एजेंसी जल्द ही गिरीश चौधरी को प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के तहत दायर मामलों की सुनवाई करने वाली कोर्ट में पेश करेगी.

    बता दें कि दिसंबर 2020 में प्रवर्तन निदेशालय ने बीजेपी को छोड़कर अक्टूबर 2020 में एनसीपी ज्वॉइन करने वाले एकनाथ खडसे को समन किया था. जनवरी 2021 में ईडी ने मुंबई में खडसे से करीब 6 घंटे तक पूछताछ की थी. 2016 में एकनाथ खडसे ने देवेंद्र फडणवीस की कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था.



    एकनाथ खडसे पर जमीन खरीद में अनियमितता का आरोप था. आरोपों में कहा गया था कि खडसे ने पुणे के पास भोसारी में एक सरकारी जमीन की 3 करोड़ से ज्यादा रुपयों में खरीद में मदद की, जबकि जमीन की असल कीमत 30 करोड़ रुपये थी.

    पढ़ेंः उद्धव ने बीजेपी से दोस्‍ती की अफवाह को नकारा, कहा- BJP के व्‍यवहार से सिर झुक गया

    वहीं 2017 में महाराष्ट्र पुलिस के एंटी करप्शन ब्यूरो ने एकनाथ खडसे और उनकी पत्नी मंदाकिनी, गिरीश चौधरी और जमीन के असली मालिक अब्बास अकानी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी, हालांकि 2018 में एसीबी ने अपनी एक रिपोर्ट में एकनाथ खडसे को क्लीन चिट दे दी थी.undefined

    Tags: ED, Girish Chaudhary, Maharashtra, Money Laundering Case, NCP Leader Eknath Khadse

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर