कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच महाराष्ट्र में कोरोना जांच शुल्क आधा, अब 1,000 रुपये की जगह 500 रुपये हुई फीस

(AP Photo/Ajit Solanki)

(AP Photo/Ajit Solanki)

महाराष्ट्र में बुधवार को 40,000 केस आए. इसके साथ ही प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़ कर 28,12,980 हो गयी है.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra) ने कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus In Maharashtra) के लिये आरटी - पीसीआर जांच (RT-PCR Test) की कीमत बुधवार को 1,000 रुपये से घटा कर 500 रुपये कर दिया है. एंटीजन जांच के शुल्क में भी कमी की गयी है. प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने इसकी घोषणा की. महामारी की शुरूआत में आरटी-पीसीआर जांच की कीमत 4500 रुपये थी और राज्य सरकार ने समय समय पर इसे कम किया. लोक स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रदीप व्यास ने बताया कि जांच के लिये नयी दरें 500 रुपये, 600 रुपये एवं 800 रुपये निर्धारित की गयी हैं.

उन्होंने बताया कि केंद्र पर जा कर नमूना देने पर जांच के लिये 500 रुपये लिए जायेंगे जबकि कोविड देखभाल केंद्र अथवा पृथक-वास केंद्र से नमूना एकत्र करने पर 600 रुपये देने होंगे और घर से नमूना लेने पर 800 रुपये शुल्क देय होगा. इसी प्रकार एंटी बॉडीज जांच कराने पर 250 रुपये, 300 रुपये और 400 रुपये देने होंगे.

Youtube Video




क्या लगेगा लॉकडाउन?
इस बीच सूत्रों ने CNN-News18 को बताया कि राज्य सरकार 1 या 2 अप्रैल तक संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए 'सख्त'  नियम जारी कर सकती है. उन्होंने कहा कि राज्य में टोटल लॉकडाउन नहीं होगा लेकिन नियम सख्त किए जाएंगे.

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अधिकारियों से नए एसओपी तैयार करने को कहा है. ठाकरे ने प्रशासनिक मशीनरी को पूरी तरह से लॉकडाउन की तैयारी करने का निर्देश दिया था, लेकिन एमवीए के सहयोगियों - एनसीपी और कांग्रेस दोनों ने इस फैसले का समर्थन नहीं किया. उनके अनुसार इससे आर्थिक नुकसान होगा.

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 39544 नये मामले सामने आये
महाराष्ट्र में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 39,544 नये मामले सामने आये जो महामारी की शुरूआत के बाद से एक दिन का दूसरा सबसे अधिक मामला है. इसके साथ ही प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़ कर 28,12,980 हो गयी है. स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी. अधिकारी ने बताया कि इससे तीन दिन पहले (28 मार्च) प्रदेश में कोविड-19 के 40,414 नये मामले सामने आये थे जो अब तक का एक दिन का सर्वाधिक मामला है. उन्होंने बताया कि प्रदेश में 22 मार्च को संक्रमितों का आंकड़ा 25 लाख को पार कर गया था जबकि 27 मार्च को यह 28 लाख को पार कर गया.

उन्होंने बताया कि राज्य में 227 मरीजों की मौत हो गयी. पिछले साल अक्टूबर के बाद से राज्य में मरने वालों की यह संख्या सबसे अधिक है. उन्होंने बताया कि इसके बाद प्रदेश में संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़ कर 54,649 हो गयी है. अधिकारी ने बताया कि 227 मौतों में से 129 मौत पिछले 48 घंटों में हुयी है और 61 की मौत पिछले सप्ताह में हुयी. उन्होंने बताया कि शेष 37 मरीजों की मौत पिछले सप्ताह से पहले हुयी है.

 मुंबई में 5,399 नये मामले सामने आये
उन्होंने बताया कि प्रदेश में आज दिन में कुल 23600 मरीजों को विभिन्न अस्पतालों से ठीक होने के बाद छुट्टी दी गयी, जिसके बाद प्रदेश में ठीक होने वाले लोगों की संख्या 24 लाख से अधिक हो गयी है. अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में अब तक 24,00,727 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और प्रदेश में उपचराधीन मरीजों की संख्या 3,56,243 है. उन्होंने बताया कि प्रदेश में 17,29,816 लोग घर में पृथक-वास में हैं जबकि 17,863 संक्रमित संस्थागत पृथक-वास में हैं.

अधिकारी ने बताया कि प्रदेश की राजधानी मुंबई में 5,399 नये मामले सामने आये हैं जिसके बाद यहा संक्रमितों की कुल संख्या बढ़ कर 4,14,773 हो गयी है. उन्होंने बताया कि राजधानी में 15 संक्रमितों की मौत होने के बाद महामारी से मरने वालों की कुल संख्या 11,690 पर पहुंच गयी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज