अपना शहर चुनें

States

महाराष्ट्र: सरकार ने खिलाड़ियों के लिए जारी की SOP, 10-15 खिलाड़ी ही हो सकेंगे इकट्ठे

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की फाइल फोटो.
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की फाइल फोटो.

महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) की तरफ से जारी की गई एसओपी (SOP) में खेलों को चार कैटेगरी में बांटा गया है. ऐसे खेल जिनमें आपसे में कोई संपर्क नहीं होता. ऐसे खेल जिनमें खिलाड़ियों के बीच बेहद कम या मध्यम संपर्क होता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 18, 2020, 12:35 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र सरकार ने खिलाड़ियों को ध्यान में रखते हुए बड़ा फैसला लिया है. सरकार ने राज्य में खिलाड़ियों (Sports) को रोज प्रैक्टिस करने की अनुमति दे दी है. इसके अलावा खिलाड़ियों के लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर यानी एसओपी (SOP for sportspersons) भी जारी कर दिया गया है. खास बात है कि कोरोना वायरस महामारी फैलने के बाद खिलाड़ियों को प्रैक्टिस रोकनी पड़ी थी. जिसकी वजह से फिटनेस और प्रदर्शन पर भी खासा असर पड़ा था.

महाराष्ट्र सरकार की तरफ से जारी की गई एसओपी में खेलों को चार कैटेगरी में बांटा गया है. ऐसे खेल जिनमें आपस में कोई संपर्क नहीं होता. ऐसे खेल जिनमें खिलाड़ियों के बीच बेहद कम या मध्यम संपर्क होता है. ऐसे खेल जो पूरी तरह संपर्क पर आधारित हैं और वॉटर स्पोर्ट्स. साइकिलिंग, तीरंदाजी जैसे बिना संपर्क वाले खेलों में सरकार ने खिलाड़ियों को रूटीन एसओपी के पालन के आदेश दिए हैं.

यहां पढ़ें: खेल मंत्रालय ने दिया योग को स्पोर्ट्स का दर्जा, सालों की चर्चा के बाद लिया गया फैसला



वहीं, फुटबॉल, हॉकी, क्रिकेट जैसे कम संपर्क वाले खेलों में खिलाड़ी केवल प्रैक्टिस के दौरान ही इकट्ठा हो पाएंगे और उन्हें एसओपी का पालन करना होगा. इसके अलावा कुश्ती, कराटे, बॉक्सिंग जैसे संपर्क पर ही आधारित खेलों के लिए ट्रेनर्स को खिलाड़ियों के पास आने की अनुमति दी गई है. साथ ही एक बार में केवल 10-15 खिलाड़ी ही प्रैक्टिस कर सकेंगे.

योग को स्पोर्ट्स के रूप में मिली मान्यता
बीते गुरुवार को भारत सरकार ने खेलों को लेकर एक बड़ी घोषणा की थी. सरकार ने योग (Yoga) को स्पोर्ट्स के रूप में मान्यता दे दी है. अब खेलो इंडिया कार्यक्रम में योग को भी प्रतियोगी खेलों में शामिल किया जाएगा और इसके लिए आयोजन होंगे. खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने ट्विट किया 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का योग को खेल बनाने और प्रसिद्धी दिलाने का सपना आज पूरा हो गया है. खेल मंत्रालय ने आधिकारिक रूप से योग को एक खेल के रूप में मान्यता दे दी है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज