• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • महाराष्ट्र सरकार का सरकारी कर्मचारियों को फरमान- दफ्तर में जरूरी हो तभी करें मोबाइल का इस्तेमाल

महाराष्ट्र सरकार का सरकारी कर्मचारियों को फरमान- दफ्तर में जरूरी हो तभी करें मोबाइल का इस्तेमाल

उद्धव ठाकरे (फ़ाइल फोटो)

उद्धव ठाकरे (फ़ाइल फोटो)

Maharashtra Government Guidelines: महाराष्ट्र सरकार के आदेश में स्पाइवेयर पेगासस का बिना जिक्र करते हुए कहा गया है कि ऑफिस में मोबाइल के बदले लैंडलाइन को ही प्राथमिकता दें.

  • Share this:
    मुंबई. देशभर में इजराइल के स्पाइवेयर पेगासस (Pegasus Spyware) की चर्चा के बीच महाराष्ट्र सरकार ने अपने कर्माचारियों से ऑफिस में मोबाइल फोन के इस्तेमाल को लेकर नई गाइडलाइन जारी की है. इसके तहत कर्मचारियों से कहा गया है कि वे ऑफिस के दौरान कम से कम मोबाइल का इस्तेमाल करें. साथ ही कहा गया है कि ऑफिस में मोबाइल के बदले लैंडलाइन को ही प्राथमिकता दें. सामान्य प्रशासन विभाग (GAD) की ओर से जारी एक आदेश में कहा गया है कि आधिकारिक काम के लिए जरूरी होने पर ही मोबाइल फोन का इस्तेमाल किया जाए.

    आईए एक नज़र डालते हैं कि सरकार की तरफ से जारी गाइड लाइन में और क्या कुछ कहा गया है...

    >> स्पाइवेयर पेगासस का बिना जिक्र करते हुए आदेश में कहा गया है कि ऑफिस में मोबाइल फोन का बेवजह इस्तेमाल सरकार की छवि खराब करता है.

    >> अगर मोबाइल फोन का उपयोग करना है तो टेक्स्ट मैसेज का अधिक उपयोग किया जाना चाहिए. और इन उपकरणों के माध्यम से बातचीत यथासंभव कम होनी चाहिए.



    >> सरकार ने कहा कि ऑफिस के दौरान मोबाइल के जरिए सोशल मीडिया का उपयोग सीमित होना चाहिए.

    >> गाइडलाइन में आगे कहा गया है कि मोबाइल फोन पर पर्सनल कॉल का जवाब ऑफिस से बाहर निकलकर दिया जाना चाहिए.

    >> आदेश में ये भी कहा गया है कि लोगों को ध्यान में रखते हुए मोबाइल फोन पर बातचीत 'विनम्र और 'कम आवाज' में होनी चाहिए.

    >> आदेश में ये भी कहा गया है कि निर्वाचित प्रतिनिधियों और वरिष्ठ अधिकारियों के कॉल का जवाब बिना देर किए देना चाहिए.

    >>आधिकारिक बैठकों के दौरान या वरिष्ठ अधिकारियों के कमरों के अंदर मोबाइल फोन साइलेंट मोड पर होना चाहिए.

    >> सरकार ने सलाह दी है कि मीटिंग के दौरान इंटरनेट ब्राउजिंग, मैसेज चेक करने और ईयर फोन के इस्तेमाल से भी बचना चाहिए

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज