उद्धव सरकार ने राज्यपाल कोश्यारी को नहीं दी सरकारी प्लेन से उड़ान की इजाजत, 20 मिनट बाद उतरना पड़ा नीचे

इस घटना के बाद राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बीच तनाव बढ़ने की आशंका है. (फाइल फोटो)

इस घटना के बाद राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बीच तनाव बढ़ने की आशंका है. (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी सरकारी चार्टर प्लेन में 20 मिनट तक बैठे इंतजार करते रहे, लेकिन उद्धव ठाकरे सरकार ने इजाजत नहीं दी, जिसके बाद उन्हें विमान से उतरना पड़ा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2021, 2:35 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में राजभवन से जुड़ा एक चौंकाने वाला मामला आया है. राजभवन और राज्य की उद्धव सरकार के बीच पहले ही तनावपूर्ण रिश्तों में गुरुवार को एक और विवाद खड़ा हो गया. दरअसल, महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी राज्य सरकार के एक विमान से देहरादून जाने वाले थे. वह सरकारी चार्टर प्लेन में 20 मिनट तक बैठे इंतजार करते रहे, लेकिन उद्धव ठाकरे नीत राज्य की महाविकास अघाड़ी (MVA) सरकार ने चार्टर प्लेन के इस्तेमाल की इजाजत नहीं दी. इसके बाद गर्वनर को विमान से उतरना पड़ा और फिर प्राइवेट एयरलाइंस से टिकट बुक करके मुंबई से देहरादून रवाना हुए. माना जा रहा है कि मौजूदा विवाद के बाद विपक्षी बीजेपी और सत्ताधारी एमवीए सरकार के बीच तल्खी और बढ़ सकती है.

राजभवन की तरफ से इस बाबत जारी बयान में कहा गया कि राज्यपाल का ये दौरा निजी नहीं, आधिकारिक था. उन्हें उत्तराखंड के मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी में आईएएस अधिकारियों के 122वें इंडक्शन ट्रेनिंग प्रोग्राम में शामिल होने के लिए जाना था. राज्य सरकार को इस बाबत 2 फरवरी को ही बताया गया था, विमान पर पहुंचने के बाद भी परमिशन नहीं दी गई,

जिसके बाद वो प्राइवेट कमर्सियल फ्लाइट से देहरादून के लिए रवाना हुए.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, सरकारी चार्टर्ड प्लेन के इस्तेमाल की इजाजत मुख्यमंत्री के अंतगर्त आने वाले सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा दी जाती है. लेकिन विभाग की ओर कोई जानकारी नहीं दी गई. इसके बाद भगत सिंह कोश्यारी विमान से उतरे और वीआईपी जोन में जाकर बैठ गए. वह करीब आधे घंटे तक वहां बैठे रहे, लेकिन तब तक सीएम ऑफिस से कोई फोन या जानकारी नहीं आई तो उन्होंने फिर प्राइवेट विमान का इस्तेमाल करने का फैसला लिया. उन्होंने फिर स्पाइसजेट की 12.15 PM पर मुंबई से देहरादून जाने वाली फ्लाइट का टिकट लिया और उसी के जरिये गंतव्य की ओर रवाना हुए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज