नागपुर में दिखा पिछले साल जैसा नजारा, घर लौटने के लिए बस अड्डों पर जमा हुए प्रवासी श्रमिक

नागपुर के बस अड्डे पर जमा हुए प्रवासी श्रमिक (Photo-ANI)

नागपुर के बस अड्डे पर जमा हुए प्रवासी श्रमिक (Photo-ANI)

Nagpur Coronavirus Cases: महाराष्ट्र के नागपुर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते नागपुर में 31 मार्च तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 22, 2021, 3:39 PM IST
  • Share this:
नागपुर. कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रवासी श्रमिक एक बार फिर से बड़े शहरों से अपने घरों की ओर लौट रहे हैं. महाराष्ट्र से ऐसे ही श्रमिकों की तस्वीर सामने आई है. नागपुर में लॉकडाउन होने के बाद मध्य प्रदेश के प्रवासी श्रमिक बस स्टैंड पर जुट गए. घर वापस लौट रहे एक प्रवासी श्रमिक ने कहा कि "हमें मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र की बसों के बंद होने की जानकारी मिली. इसलिए हम घर वापस लौट रहे हैं." बता दें पिछले साल देश भर में लॉकडाउन होने के बाद प्रवासी श्रमिक अपने घरों की ओर वापस लौटने के लिए बस और रेलवे स्टेशनों पर पहुंचने लगे थे. इसके साथ ही लोग यातायात के साधन न मिलने के चलते सैकड़ों किलोमीटर तक की पैदल यात्रा करने को भी मजबूर हुए थे.

बता दें महाराष्ट्र के नागपुर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते नागपुर में 31 मार्च तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है. हालांकि शहर में सब्जी और आवश्यक सामानों की दुकानें खुली रहेंगी. महाराष्ट्र के नागपुर में इससे पहले 15 मार्च से 21 मार्च तक लॉकडाउन लगाया गया था. पिछले 24 घंटे में नागपुर में 29 लोगों की संक्रमण के चलते मौत हुई है. नागपुर में संक्रमण के कुल 1,89,466 केस हैं, जबकि 1 लाख 57 हजार 249 लोग इलाज पाकर स्वस्थ हुए हैं. कुल एक्टिव मामलों की संख्या 27,625 है, अभी तक कुल 4592 लोगों की मौत हुई है.

Youtube Video




ये भी पढ़ें- कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बावजूद भारत में खराब हो रही वैक्‍सीन, ये है वजह
वहीं मुंबई में बढ़ते मामलों को देखते हुए बीएमसी ने सार्वजनिक जगहों पर रैंडम तरीके से रैपिड एंटीजन टेस्ट करने के निर्देश दिए हैं. इसके साथ ही बीएमसी ने कहा है कि अगर कोई नागरिक टेस्ट करने से इनकार करता है, तो उन पर महामारी अधिनियम के तहत केस दर्ज किया जाएगा.

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोविड-19 संक्रमण के 25,681 नये मामले दर्ज किये गये. पिछले साल इस महामारी के शुरू होने के बाद एक दिन में सामने आये मामलों की यह दूसरी सबसे अधिक संख्या है. एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि राज्य में मामलों की कुल संख्या बढ़कर 24,22,021 पर पहुंच गई है. उन्होंने बताया कि महामारी से 70 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या 53,208 हो गई है.

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र के मंत्री आदित्य ठाकरे हुए कोरोना पॉजिटिव, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

महाराष्ट्र  में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों को देखते हुए राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि लॉकडाउन भी एक विकल्प है. इसके साथ ही ठाकरे ने लोगों से वायरस से बचाव के लिए बिना किसी डर के टीका लगवाने की भी अपील की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज