महाराष्ट्र के मंत्री अब्दुल सत्तार कोरोना वायरस से संक्रमित
Maharashtra News in Hindi

महाराष्ट्र के मंत्री अब्दुल सत्तार कोरोना वायरस से संक्रमित
महाराष्ट्र के मंत्री कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

अब्दुल सत्तार (Abdul Sattar) से पहले राज्य के कैबिनेट मंत्री जितेंद्र अव्हाड (Jitendra Avhad), अशोक चव्हाण (Ashok Chavhan) और धनंजय मुंडे (Dhananjay Munde) कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे.

  • Share this:
औरंगाबाद. महाराष्ट्र (Maharashtra) के मंत्री और शिवसेना नेता अब्दुल सत्तार (Abdul Sattar) ने बुधवार को कहा कि वह कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमित पाए गए हैं. औरंगाबाद (Aurangabad) के सिल्लोड विधानसभा क्षेत्र (Sillaud Assembly Constituency) से विधायक सत्तार ने एक फेसबुक पोस्ट (Facebook Post) में कहा कि वह मुंबई (Mumbai) में अपने घर पर पृथकवास में हैं. वह महा विकास अघाड़ी सरकार (Maha Vikas Agadhi) में मंत्री भी हैं और उन्होंने अपने संपर्क में आने वाले लोगों ने अपनी जांच कराने का अनुरोध किया है. इससे पहले राज्य के कैबिनेट मंत्री जितेंद्र अव्हाड (Jitendra Avhad), अशोक चव्हाण (Ashok Chavhan) और धनंजय मुंडे (Dhananjay Munde) कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे. यह सभी फिलहाल ठीक हो चुके हैं.

महाराष्ट्र के एक और मंत्री असलम शेख ने सोमवार को कहा था कि वह कोरोना संक्रमित हो गये हैं.

वहीं बृहन्मुंबई महानगरपालिका (BMC) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि मुम्बई में कोविड-19 की स्थिति ‘‘नियंत्रण में’’ है और संक्रमण के रोजाना 1,500 से कम नए मामले सामने आ रहे हैं. अतिरिक्त नगर निगम आयुक्त सुरेश काकानी ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि रोजाना 6,000 से 7,000 जांच की जा रही है और अधिकतर लोग सुरक्षा नियमों का पालन भी कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि शहर में पिछले कई दिनों से रोजाना 1,500 से कम नए मामले सामने आ रहे हैं.



ये भी पढ़ें- केरल: एग्जाम सेंटर के बाहर भीड़ लगाने पर 600 पैरेंट्स पर केस दर्ज
मुंबई में स्थिति नियंत्रण में है
काकानी ने कहा, ‘‘ स्थिति नियंत्रण में है.’’ उन्होंने बताया कि कोविड-19 के शहर में दस्तक देने के बाद से ही बीएमसी ने झुग्गी-बस्ती इलाकों पर ध्यान केन्द्रित किया, संक्रमित लोगों के सम्पर्क में आए लोगों की पहचान की, उन्हें पृथक किया और संक्रमित होने की पुष्टि पर उन्हें पृथक वास केन्द्र भी भेजा.

अतिरिक्त नगर निगम आयुक्त ने बताया कि बीएमसी ने झुग्गी-बस्ती इलाकों में घर-घर जाकर सर्वेक्षण किया और जिन लोगों में लक्षण थे, उनका पता लगाया. स्थानीय डॉक्टरों की मदद से ‘फीवर क्लीनिक’ और ‘एक्स रे वैन’ की स्थापना की गई. उन्हें सभी चिकित्सकीय उपकरण मुहैया कराए गए और साझे शौचालयों को बार-बार संक्रमण मुक्त भी किया जा रहा है.

आवासीय इमारतों पर केंद्रित किया जाएगा ध्यान
काकानी ने कहा कि नगर निकाय अब आवासीय इमारतों और हाउसिंग सोसायटी पर ध्यान केन्द्रित करेगा. हाउसिंग सोसायटी में बिना मास्क के किसी व्यक्ति को ना आने देने संबंधी दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे. उन्होंने बताया कि नगर निकाय ने गणेश उत्सव के मद्देनजर ‘एक वार्ड - एक गणपति’ को अनुमति दी है और इस पर बाकी निर्णय स्थानीय अधिकारी लेंगे. इस साल यह 10 दिवसीय उत्सव 22 अगस्त से शुरू होगा. बीएमसी के अनुसार मुम्बई में मंगलवार तक कोविड-19 के 1,03,262 पुष्ट मामले थे और इससे 995 लोगों की जान जा चुकी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading