महाराष्ट्र में कोरोना के नए केस हुए 30 हजार से कम, ब्लैक फंगस पसार रहा है पांव

महाराष्ट्र में कोरोना 30 हजार से भी कम हुए.

महाराष्ट्र में कोरोना 30 हजार से भी कम हुए.

भारत में कोरोना के खिलाफ जंग में थोड़ी स्थिरता दिखाई देने लगी थी, इसी बीच ब्लैक फंगस का अटैक चुनौती बनता नजर आ रहा है. महाराष्ट्र में काफी दिनों बाद कोरोना केस 30 हजार से भी कम हो गए, लेकिन राज्य के कई इलाकों में ब्लैक फंगस के मरीज़ बढ़े हैं.

  • Share this:

मुंबई. कोरोना की दूसरी लहर का कहर महाराष्ट्र से शुरू हुआ था. महीनों बाद अब यहां कोरोना वायरस का साम्राज्य सिमटता हुआ दिखाई दे रहा है. पिछले 24 घंटे में आई कोरोना रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र में कोरोना के 29 हजार 644 नए कोविड केस सामने आए हैं. हालांकि वायरस से मरने वालों की संख्या 500 से ज्यादा ही रही. 24 घंटे में 555 लोगों की जान कोरोना वायरस ने ले ली. इस तरह प्रदेश में कोरोना के कुल केस 55 लाख 27 हजार 092 हो गए हैं, जबकि वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 86 हजार 618 पहुंच गया है.

राज्य में इस वक्त कोरोना के एक्टिव केस 3 लाख 67 हजार 121 है. कोरोना से रिकवर करने वालों की बात करें तो एक ये आंकड़ा महाराष्ट्र में राहत देने वाला है. एक बार फिर राज्य में बीमारी से रिकवर करने वाले मरीजो की संख्या नए संक्रमितों से ज्यादा है. 24 घंटे में कुल 44 हजार 493 लोग कोरोना से रिकवर हुए हैं.

क्या है मुंबई का हाल?

कोरोना से एक वक्त में सबसे ज्यादा पस्त हुई आर्थिक राजधानी मुंबई की बात करें तो यहां 24 घंटे के अंदर आए कोरोना के नए केसेज की संख्या 1416 रही. गुरुवार को ये संख्या 1425 रही थी. कोविड-19 संक्रमण से 24 घंटे के अंदर 54 लोगों ने अपनी जान गंवाई, जबकि शुक्रवार को 59 लोगों की जान वायरस ने ली थी. मुंबई में फिलहाल कोरोना के 29 हजार 103 एक्टिव केसेज हैं और इलाज के बाद रिकवर होकर 1766 मरीजों को घर भेजा गया है.
ब्लैक फंगस पसार रहा है पांव

कोरोना के कम होते आंकड़ों के बीच म्यूकरमायकोसिस या फिर ब्लैक फंगस के केस लगातार बढ़ते हुए दिख रहे हैं. अब तक राज्य में इस खतरनाक फंगस ने 90 से ज्यादा लोगों की जान ले ली है. महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजित पवार ने भी ब्लैक फंगस को लेकर जानकारी दी है कि पुणे में इसके केस 300 तक पहुंच गए हैं. कोरोना के बाद अब राज्य में ब्लैक फंगस की दवाओं की भी कमी हो रही है. इसे लेकर महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री ने केंद्र सरकार को भी अवगत कराते हुए अधिक दवाओं की मांग की है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज