अपना शहर चुनें

States

पालघर: साधुओं की हत्या के मामले में 19 और गिरफ्तार, 5 नाबालिग भी पकड़े गए

पालघर में साधुओं की हत्या के मामले में अब तक 248 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है.
पालघर में साधुओं की हत्या के मामले में अब तक 248 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है.

महाराष्ट्र (Maharashtra) के पालघर (Palghar Lynching Case) में अप्रैल महीने में भीड़ द्वारा दो साधुओं और उनके कार चालक की पीट-पीटकर हत्या के मामले में अब तक 248 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, जिनमें से 105 को जमानत दी जा चुकी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 24, 2020, 11:19 AM IST
  • Share this:
पालघर. महाराष्ट्र सीआईडी (Maharashtra CID) की अपराध शाखा ने पालघर जिले में अप्रैल महीने में भीड़ द्वारा दो साधुओं और उनके कार चालक की पीट-पीटकर हत्या (Palghar Lynching Case) के मामले में 19 और लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें एक की उम्र 70 साल है. जांच अधिकारी ने बताया कि इनके अलावा पुलिस ने 16 अप्रैल की घटना के सिलसिले में पांच नाबालिगों को भी पकड़ा है. गिरफ्तार किए गए लोगों में से एक एमटेक डिग्री धारक और एक प्रतिष्ठित कंपनी का प्रबंधक भी शामिल है.

अधिकारी ने कहा कि अब तक भीड़ हिंसा के मामले में 248 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, जिनमें से 105 को जमानत दी जा चुकी है. बता दें कि दिलदहला देने वाली घटना के मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने महाराष्ट्र पुलिस के डीजीपी को नोटिस भेजकर 4 हफ्ते के भीतर घटना की विस्तृत रिपोर्ट देने को कहा था. बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने अपने बाल मुंडवा लिए थे. उन्होंने कहा था कि हिंदू रीति के अनुसार पितातुल्य संतों को श्रद्धांजलि देने के लिए उन्होंने अपने बाल मुंडवाए हैं.

इसे भी पढ़ें :- महाराष्ट्र CID ने पालघर लिंचिंग मामले में दायर की चार्जशीट
क्या हुआ था 16 अप्रैल की रात
16 अप्रैल गुरुवार की रात महाराष्ट्र के पालघर जिले में मौजूद गढ़चिंचली गांव में ग्रामीणों ने कार सवार तीन लोगों पर पत्थर, डंडों और कुल्हाड़ियों से हमला कर दिया था. हमले का शिकार हुए तीन लोगों में दो साधु और एक ड्राइवर शामिल थे. तीनों पालघर के रास्ते सूरत में एक अंतिम संस्कार कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे. ग्रामीणों ने इन लोगों पर हमला बच्चा चोरी और अंग तस्करी के शक के चलते किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज