अपना शहर चुनें

States

महाराष्ट्र पंचायत चुनाव: सरपंच पद की हो रही नीलामी, EC ने 2 ग्राम पंचायत के चुनाव किए रद्द

 (सांकेतिक तस्वीर)
(सांकेतिक तस्वीर)

नासिक के उमराणे गांव में सरपंच पद के लिए दो करोड़ 42 लाख रुपए तक बोली लगाई गई. नासिक के उमराणे गांव की तरह ही उत्तर महाराष्ट्र के नंदूरबार जिले के खोड़ामली गांव में भी सरपंच पद की नीलामी का मामला भी सामने आया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2021, 9:44 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के 34 जिलों के 14 हजार 234 ग्राम पंचायतों में आगामी 15 जनवरी से पंचायत चुनाव (Panchayat Election)  होने जा रहे हैं. चुनाव से पहले चुनाव आयोग (Election Commission)  को ऐसी शिकातय मिली है कि कुछ ग्राम पंचायत में सरपंच पद के लिए बोली लगाई जा रही है. सरपंच पद की नीलामी का मामला संज्ञान में आने के बाद अब राज्‍य चुनाव आयुक्‍त ने सोमवार को सभी जिलाधिकारियों से रिपोर्ट तलब करते हुए दो ग्राम पंचायतों को चुनाव रद्द करने का फैसला किया है.

सरपंच पद की नीलामी का यह मामला तब सामने आया जब नासिक के उमराणे गांव में सरपंच पद के लिए दो करोड़ 42 लाख रुपए तक बोली लगाई गई. नासिक के उमराणे गांव की तरह ही उत्तर महाराष्ट्र के नंदूरबार जिले के खोड़ामली गांव में भी सरपंच पद की नीलामी का मामला भी सामने आया है. इस पूरे मामले की खास बात ये हैं कि नीलामी की इस प्रक्रिया को किसी भी तरह से गुप्‍त नहीं रखा गया था. नीलामी की इस पूरी प्रक्रिया को श्री रामेश्वर महाराज मंदिर प्रांगण में संपन्न किया गया, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उमराणे गांव में सरपंच पद की नीलामी एक करोड़ 11 लाख से शुरू हुई और 2 करोड़ 42 लाख में पूरी हुई. इस नीलामी प्रक्रिया में पूर्व जिला परिषद सदस्य प्रशांत देवरे के पैनल के सुनील दत्तू देवरे को सरपंच पद पर जीत तय हुई. उमराणे गांव इस लिए भी काफी अहम है क्‍योंकि यहां पर प्याज बाजार समिति भी है.
इसे भी पढ़े:- पंचायत चुनाव: एक ही मकान और एड्रेस पर 102 वोट, कांग्रेस ने उठाए सवाल



ग्राम विकास मंत्री ने खुद की थी शिकायत
महाराष्‍ट्र में ग्राम पंचायत चुनाव से पहले सरपंच पद की नीलामी की शिकायत खुद ग्राम विकास मंत्री हसन मुश्रिफ ने की थी. मंत्री मुश्रिफ द्वारा मामले की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए राज्य चुनाव आयुक्त यूपीएस मदान ने सोमवार को राज्य के सभी जिलाधिकारियों को ग्राम पंचायत चुनाव के संदर्भ में रिपोर्ट देने का आदेश दिया है. मामले की गंभीरता को देखते हुए दोनों ही ग्राम पंचायतों के चुनावों को रद्द करने का फैसला किया है.



इसे भी पढ़े:- UP पंचायत चुनाव 2021: आरक्षण की नए सिरे से लागू होगी प्रक्रिया, ये रहा फार्मूला

15 जनवरी को होना है मतदान, 18 को मतगणना
महाराष्ट्र के 34 जिलों में 14 हजार 234 ग्राम पंचायतों में 15 जनवरी को मतदान किया जाएग. मतदान के प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद 18 जनवरी को मतगणना होगी. बता दें कि ये चुनाव 31 मार्च 2020 से पहले हो जाने थे लेकिन कोरोना महामारी के चलते चुनाव को टालना पड़ा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज