महाराष्ट्र में सैलून के बाद अब खुलेंगे होटल और रेस्त्रां, जल्‍द जारी होगी SOP
Maharashtra News in Hindi

महाराष्ट्र में सैलून के बाद अब खुलेंगे होटल और रेस्त्रां, जल्‍द जारी होगी SOP
महाराष्ट्र में जल्द ही होटल और रेस्त्रां खोलने पर विचार किया जा रहा है,

महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने रविवार को राज्य के होटल मालिकों के साथ बैठक की. मुख्यमंत्री ने रविवार को कहा कि राज्य में होटल एवं रेस्तरां फिर से खोले जाने के बारे में निर्णय मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) को अंतिम रूप दिये जाने के बाद लिया जाएगा.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सैलून के बाद अब जल्द ही होटल भी खुलने वाले हैं. राज्य में होटल कब खुलेंगे, राज्य सरकार की ओर से जल्द ही इसकी जानकारी साझा की जाएगी और इस संबंध में मानक संचालन प्रक्रिया (Standard Operations Procedure) भी जारी की जाएगी. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने रविवार को राज्य के होटल मालिकों के साथ बैठक की. मुख्यमंत्री ने रविवार को कहा कि राज्य में होटल एवं रेस्तरां फिर से खोले जाने के बारे में निर्णय मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) को अंतिम रूप दिये जाने के बाद लिया जाएगा.

होटल एवं लॉज के विभिन्न संघों से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि होटल उद्योग ने पर्यटन क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. एक अन्य बैठक को संबोधित करते हुए मुख्मयंत्री ने कंपनियों से अपने श्रमिकों की छंटनी नहीं करने की अपील की. मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘होटलों और रेस्तरां को फिर से खोले जाने के लिये एसओपी को अंतिम रूप दिया जा रहा है. यह पूरा हो जाने पर होटलों और रेस्तरां को फिर से खोले जाने पर निर्णय लिया जाएगा.’’

आदित्य ठाकरे ने की होटल उद्योग की भूमिका की तारीफ
इस बीच, पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) ने कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) के खिलाफ लड़ाई में होटल उद्योग की भूमिका की सराहना की. उन्होंने एक डिजिटल बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘होटल उद्योग ने अग्रिम मोर्चे पर लड़ रहे कर्मियों को होटल और लॉज में रहने की जगह देकर (कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में) पहले दिन से ही अहम भूमिका निभाई है.’’
ये भी पढ़ें- चीन की चालबाजी, भूटान की जमीन पर गड़ा रहा नजरें, भारत पर क्या असर होगा?



कोविड-19 संकट से निपटने को लेकर विपक्ष द्वारा महाराष्ट्र सरकार की आलोचना को नजरअंदाज करते हुए राज्य के मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा है कि वैश्विक महामारी से निपटना सरकार की प्राथमिकता है और बाकी चीजें बाद में आती हैं.

ठाकरे ने कहा-कोविड-19 से निपटना पहली प्राथमिकता
कोरोना वायरस संबंधी हालात का जायजा लेने पहुंचे ठाकरे से संवाददाताओं ने कोविड-19 संकट से उचित तरीके से निपटने में असमर्थ रहने को लेकर विपक्ष द्वारा सरकार की आलोचना के संबंध में सवाल किए गए, जिसके जवाब में उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें अपना काम करने दीजिए, हम अपना काम करते रहेंगे. इस समय हमारी प्राथमिकता कोविड-19 के कारण पैदा हुए हालात से निपटना और वायरस की श्रृंखला को तोड़ना है, बाकी चीजें बाद में आती हैं.’’

ये भी पढ़ें- मिशन वंदे भारतः भारत-अमेरिका के बीच होगा 36 फ्लाइट्स का संचालन

शिवसेना के विधायक ने अस्पताल में बिस्तरों के ऑनलाइन वितरण और एम्बुलैंस बुक कराने के लिए एक ऐप भी शुरू की, जिसे ठाणे नगर निगम ने विकसित किया है.

महाराष्ट्र में संक्रमण के अब तक 2,00,064 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 8,671 लोगों की मौत हो चुकी है. ठाणे जिले में शनिवार तक संक्रमण के 40,542 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 1,221 लोगों की मौत हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading