महाराष्ट्र में कोरोना के 14,718 नए मामले, 355 मरीजों की मौत; 9,136 मरीज ठीक हुए
Maharashtra News in Hindi

महाराष्ट्र में कोरोना के 14,718 नए मामले, 355 मरीजों की मौत; 9,136 मरीज ठीक हुए
राज्य में अब तक 5,31,563 संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

मुंबई (Mumbai) में 1,350 नए मामले सामने आए जबकि 30 मरीजों की मौत हो गयी. शहर में अब तक कुल मामले 1,40,882 हो गए हैं वहीं मृतकों की संख्या बढ़कर 7,535 हो गई.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में गुरुवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के 14,718 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही राज्य में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 7,33,568 हो गयी. इसके अलावा 355 मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या 23,444 तक पहुंच गई. एक स्वास्थ्य अधिकारी ने यह जानकारी दी. राज्य में अभी 1,78,234 मरीजों का इलाज चल रहा है. अधिकारी ने कहा कि गुरुवार को 9,136 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई. राज्य में अब तक 5,31,563 संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं.

राज्य की राजधानी मुंबई (Mumbai) में 1,350 नए मामले सामने आए जबकि 30 मरीजों की मौत हो गयी. शहर में कोविड-19 मामलों (Covid-19 Cases) की कुल संख्या 1,40,882 हो गयी है वहीं मृतकों की संख्या बढकर 7,535 हो गई. मुंबई में अभी 19,463 मरीजों का इलाज चल रहा है. पुणे शहर में 35 मरीजों की मौत के साथ 1,772 नए मामले सामने आए. महाराष्ट्र में गुरुवार को 355 मरीजों की मौत होने की रिपोर्ट मिली. इनमें से 236 मरीजों की मौत पिछले 48 घंटों में हुई जबकि 83 मरीजों की मौत पिछले एक सप्ताह में हुई.

ये भी पढ़ें- WHO की चेतावनी, युवाओं से वृद्धों में कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा अधिक



अधिकारी ने कहा कि 36 लोगों की मौत पिछले सप्ताह से भी पहले हुई थी लेकिन उन्हें गुरुवार के आंकड़ों में दर्शाया गया है. ठाणे डिविजन में कोविड-19 के 3,505 नए मामले सामने आए. इस क्षेत्र में अब तक 12,521 लोगों की मौत हो चुकी है.
BJP और AIMIM करेंगी धार्मिक संगठन खोलने की मांग
वहीं राज्य में कोविड-19 के मामलों (Covid-19 Cases) में लगातार वृद्धि के बावजूद भाजपा (BJP) और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुस्लिमीन (AIMIM) ने राज्य सरकार पर धार्मिक स्थल खोलने का दबाव बनाने का फैसला लिया है. राज्य में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये 24 मार्च से लागू लॉकडाउन के चलते धार्मिक स्थलों समेत सभी प्रतिष्ठान बंद हैं. एक ओर जहां राज्य सरकार ने लोगों को आवजाही, दुकानें खोलने तथा कारोबार शुरु करने के लिये पाबंदियों में ढील दी है तो वहीं दूसरी ओर धार्मिक स्थल अभी बंद हैं.

ये भी पढ़ें- लोकसभा स्पीकर ने मानसून सत्र से पहले कोरोना की तैयारियों का लिया जायजा

भाजपा और एआईएमआईएम मंदिर और मस्जिदें खोलने की अलग-अलग मांग कर चुके हैं.

भाजपा की राज्य इकाई के प्रमुख चंद्रकांत पाटिल ने राज्य में मंदिर फिर से खोलने को लेकर सरकार पर दबाव बनाने के लिये 29 अगस्त को राज्यव्यापी आंदोलन का आह्वान किया है.

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार पहले ही मंदिर खोलने को लेकर परिपत्र जारी कर चुकी है और कई बड़े मंदिरों को खोला भी जा चुका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading