अपना शहर चुनें

States

महाराष्‍ट्र में कोरोना के लगभग 7000 नए केस, CM उद्धव बोले- हालात नहीं सुधरे तो लगेगा लॉकडाउन

महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं (Photo- AP)
महाराष्ट्र में कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं (Photo- AP)

Maharashtra Coronavirus Cases: करीब 7 हजार नए मामलों के बाद महाराष्ट्र में संक्रमित लोगों की संख्या 21 लाख 884 पहुंच गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2021, 9:39 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामलों (Maharashtra Coronavirus Cases) में लगातार तेजी से बढ़ोतरी जारी है. राज्य में रविवार को 6,971 मामले सामने आए हैं. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 35 लोगों की मौत हुई है जबकि 2,417 लोग इस अवधि में ठीक हुए हैं. करीब 7 हजार नए मामलों के बाद महाराष्ट्र में संक्रमित लोगों की संख्या 21 लाख 884 पहुंच गई है. वहीं अब तक 19 लाख, 94 हजार 947 लोग ठीक हुए हैं. राज्य में अब तक 51,788 लोगों की मौत हुई है जबकि करीब 52,956 लोगों का अभी इलाज चल रहा है.

बता दें महाराष्ट्र में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों के मद्देनजर राज्य के विदर्भ क्षेत्र के अमरावती जिले में 22 फरवरी को रात आठ बजे से एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन लागू रहेगा. कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि के चलते यह निर्णय लिया गया है. इसके अलावा राज्य में सभी तरह सार्वजनिक कार्यक्रमों पर भी रोक लगा दी गई है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को इसका ऐलान किया.

ये भी पढ़ें- ईंधन की बढ़ी कीमतों पर सोनिया का PM को खत, 'पिछली सरकारों को ना ठहराएं दोषी'



'महामारी की दूसरी लहर के बारे में अगले 15 दिन में पता चलेगा'
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को घोषणा की कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर राज्य में सोमवार से सभी राजनीतिक, धार्मिक और सामाजिक जमावड़े पर रोक होगी. ठाकरे ने टेलीविजन पर अपने संबोधन में यह भी कहा कि राजनीतिक आंदोलन को अगले कुछ दिनों के लिए अनुमति नहीं दी जाएगी क्योंकि उसमें भीड़ एकत्रित होती है. उन्होंने कहा, ‘‘महामारी राज्य में अपना सिर उठा रही है, लेकिन क्या यह एक और लहर है इसका पता आठ से 15 दिनों में चलेगा. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘हो सकता है कि लॉकडाउन कोविड-19 का समाधान नहीं हो, लेकिन यह वायरस के चक्र को तोड़ने का एकमात्र विकल्प है. ’’

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 उचित व्यवहार आवश्यक है और नियमों का उल्लंघन करने वालों को दंडित किया जाएगा. मुख्यमंत्री के अनुसार, कोरोना वायरस के खिलाफ युद्ध में मास्क एकमात्र ‘‘ढाल’’ है.

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र में 'बेकाबू' कोरोना पर CM उद्धव का बड़ा फैसला, सभी तरह के कार्यक्रमों पर रोक

ठाकरे ने कहा, ‘‘मास्क पहनें, अनुशासन बनाए रखें और लॉकडाउन से बचने के लिए सामाजिक दूरी बनाये रखने के नियम का पालन करें. ’’

वहीं महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य विशेषज्ञों एवं सरकारी अधिकारियों ने इसके लिये उन लोगों को जिम्मेदार बताया है जो न तो मास्क पहनते हैं और न ही सामाजिक दूरी से मेल जोल के नियमों का पालन करते हैं. प्रदेश के ग्रामीण इलाकों एवं मुंबई के गैर झुग्गी इलाकों में संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच ताजा लॉकडाउन लागू करने की चर्चा शुरू हो चुकी है. इससे कुछ ही दिन पहले सार्वजनिक परिवहन प्रणाली, शैक्षिक संस्थान एवं धार्मिक स्थान खुले थे.

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले महाराष्ट्र में रविवार को लगातार छठे दिन बढ़े हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज