महाराष्ट्र में कोविड-19 के 22,543 नये मामले, कुल केस 10 लाख 60 हजार के पार
Maharashtra News in Hindi

महाराष्ट्र में कोविड-19 के 22,543 नये मामले, कुल केस 10 लाख 60 हजार के पार
पंजाब में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.

Coronavirus Cases in Maharashtra: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 10,60,308 तक हो गई है जबकि यहां अभी तक 29 हजार से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 13, 2020, 11:20 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में रविवार को कोविड-19 (Covid-19) के 22,543 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामले 10,60,308 तक पहुंच गए. स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. अधिकारी ने बताया कि पिछले 24 घंटों में संक्रमण के कारण 416 और मौतें होने से राज्य में बीमारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 29,531 हो गई. उन्होंने बताया कि अब तक 7,40,061 लोगों को छुट्टी दी जा चुकी है, जबकि राज्य में 2,90,344 लोगों का इलाज चल रहा है. राज्य में अब तक कुल 52,53,676 जांच हुई हैं.

मुंबई (Mumbai) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के अब तक कुल 169741 केस सामने आए हैं जिसमें से फिलहाल 30316 एक्टिव हैं. मुंबई में मौतों का आंकड़ा 8105 हो गया है. वहीं कोरोना से बुरी तरह प्रभावित पुणे (Pune) में कुल मामले 232840 हो गए हैं. पुणे में अब तक 4813 लोगों की जान गई है जबकि 77624 लोगों का अभी भी इलाज चल रहा है. मुंबई से सटे ठाणे (Thane) में 156916 केस आए हैं जबकि यहां 123222 लोग ठीक हुए हैं. ठाणे में फिलहाल एक्टिव मामले 29531 हैं और यहां अब तक 4162 लोगों की जान गई है.

ये भी पढ़ें- संसद के मानसून सत्र से पहले कई सांसद पाए गए कोरोना वायरस से संक्रमित



बता दें महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के सर्वाधिक केस सामने आए हैं और लगातार यहां पर मामलों में बढ़ोत्तरी दर्ज की जा रही है. देश में बढ़ते मामलों को लेकर केंद्र की भी चिंता बढ़ी हुई है. ऐसे में केंद्र ने रविवार को महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश से यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है कि कोरोना वायरस महामारी के कारण सभी स्वास्थ्य केंद्रों में ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता और राज्य के अंदर तथा दूसरे राज्यों में ऑक्सीजन सिलेंडरों की निर्बाध आवाजाही सुनिश्चित की जाए.
डिजिटल बैठक में हुई ये चर्चा
एक बयान में कहा गया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक डिजिटल बैठक की जिसमें केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव, सचिव डीपीआईआईटी और सचिव, औषध ने हिस्सा लिया. बैठक में सात राज्यों के स्वास्थ्य सचिव और उद्योग सचिव भी शामिल थे और इस दौरान सभी स्वास्थ्य केंद्रों में ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता तथा ऑक्सीजन सिलेंडरों की राज्य के अंदर और दूसरों राज्यों तक निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के तरीकों पर चर्चा हुई.

ये भी पढ़ें- फ्लाइट में फोटो खींचने को लेकर DGCA का नया आदेश, कुछ शर्तों के साथ मिली इजाजत

केंद्रीय वाणिज्य, उद्योग एवं रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भी उन्हें संबोधित किया.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि राज्यों को परामर्श दिया गया कि वे स्वास्थ्य केंद्र वार/अस्पताल वार ऑक्सीजन के लेखे-जोखे का प्रबंधन करें और वहां खर्च होने पर फिर से ऑक्सीजन की अग्रिम आपूर्ति सुनिश्चित करें जिससे उनके स्टॉक में कमी होने की स्थिति न बने. (भाषा के इनपुट सहित)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading