Home /News /maharashtra /

maharashtra shinde won first test rahul narwekar became youngest assembly speaker mnj

ससुर विधान परिषद चेयरमैन, दामाद विधानसभा अध्यक्ष... राहुल नार्वेकर बने देश के सबसे युवा स्पीकर

विधानसभा अध्यक्ष बनने के बाद राहुल नार्वेकर को मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने बधाई दी. (फोटो ANI)

विधानसभा अध्यक्ष बनने के बाद राहुल नार्वेकर को मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने बधाई दी. (फोटो ANI)

Maharashtra Speaker Election: महाराष्ट्र विधानसभा में स्पीकर पद के चुनाव में राहुल नार्वेकर को 164 मत मिले. सीएम एकनाथ शिंदे और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने उन्हें बधाई दी. फडणवीस ने बताया कि एनसीपी नेता और विधान परिषद के चेयरमैन रामराजे नाइक निंबालकर के दामाद राहुल नार्वेकर न सिर्फ महाराष्ट्र के बल्कि पूरे देश में विधानसभा के सबसे युवा अध्यक्ष हैं.

अधिक पढ़ें ...

मुंबईः महाराष्ट्र विधानसभा में अपनी पहली परीक्षा में एकनाथ शिंदे सरकार पास हो गई. विधानसभा अध्यक्ष के तौर पर राहुल नार्वेकर निर्वाचित हो गए हैं. उन्हें 164 मत मिले जबकि विपक्ष के राजन साल्वी को 107 मतों से संतोष करना पड़ा. डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने बधाई देते हुए बताया कि राहुल नार्वेकर न सिर्फ महाराष्ट्र के बल्कि पूरे देश में विधानसभा के सबसे युवा अध्यक्ष हैं. राहुल एनसीपी के नेता और विधान परिषद के चेयरमैन रामराजे नाइक निंबालकर के दामाद हैं.

विधानसभा अध्यक्ष की कुर्सी पर बैठे राहुल नार्वेकर से मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि विधानसभा के किसी भी सदस्य के साथ कोई अन्याय न हो. डिप्टी सीएम फडणवीस ने कहा कि राहुल एक योग्य नेता हैं. युवा हैं. उनके जैसा युवा विधानसभा अध्यक्ष पूरे देश में नहीं है. फडणवीस ने कहा कि एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में भाजपा-शिवसेना गठबंधन की यह सरकार महाराष्ट्र की सभी आकांक्षाओं को पूरा करने की कोशिश करेगी. हमें उम्मीद है कि अध्यक्ष (नार्वेकर) इसमें अच्छा सहयोग देंगे.

इससे पहले, मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि अब बालासाहेब ठाकरे की मान्यताओं के आधार पर भाजपा-शिवसेना सरकार ने कार्यभार संभाल लिया है. अब तक, हमने देखा है कि लोग विपक्ष से सरकार में पाला बदलकर जाते हैं, लेकिन इस बार सरकार के नेता विपक्ष में चले गए. उन्होंने कहा कि मैं खुद मंत्री था, कई अन्य मंत्रियों ने भी सरकार छोड़ी. बालासाहेब ठाकरे और आनंद दिघे की विचारधारा के प्रति समर्पित मेरे जैसे आम कार्यकर्ता के लिए यह बहुत बड़ी बात थी.

स्पीकर के चुनाव के दौरान 288 सदस्यीय विधानसभा में 274 सदस्यों ने ही मतदान किया. 12 विधायक किसी न किसी कारण से गैरहाजिर रहे. महाराष्ट्र में विधानसभा स्पीकर का पद पिछले साल से ही खाली थी. कांग्रेस नेता नाना पटोले ने फरवरी 2021 को इस्तीफा दे दिया था. उसके बाद एनसीपी नेता डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल ही विधानसभा का संचालन करते आ रहे थे. एकनाथ शिंदे और उद्धव ठाकरे के विवाद में जिरवाल के कई फैसलों पर सवाल उठे. इसके बाद शिंदे सरकार ने आते ही नए स्पीकर का चुनाव कराने का फैसला किया.

बता दें कि राहुल नार्वेकर राजनीतिक परिवार से संबंध रखते हैं. वह वर्तमान में महाराष्ट्र के कोलाबा सीट से विधायक हैं. 2019 में हुए विधानसभा चुनाव में राहुल पहली बार विधायक बने. वह शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी से भी जुड़े थे. नार्वेकर शिवसेना यूथ विंग के प्रवक्ता भी रहे हैं. उनके पिता सुरेश नार्वेकर पार्षद रहे हैं. शिवसेना में रहते हुए राहुल ने 2014 के लोकसभा चुनाव में अपनी दावेदारी पेश थी, लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिला. इसके बाद राहुल नार्वेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) में शामिल हो गए थे. एनसीपी ने उन्हें मावल लोकसभा क्षेत्र से मैदान में उतारा था, लेकिन वह चुनाव हार गए. बाद में राहुल नार्वेकर एनसीपी छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए.

Tags: Devendra Fadnavis, Mumbai, Shiv sena

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर