अपना शहर चुनें

States

VIDEO: शिवसैनिकों ने BJP नेता को काली स्याही से नहलाकर पहनाई साड़ी, CM ठाकरे की आलोचना का था आरोप

महाराष्ट्र में शिवसेवा, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की साझे वाली महा विकास अघाडी सरकार है. ANI
महाराष्ट्र में शिवसेवा, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की साझे वाली महा विकास अघाडी सरकार है. ANI

Maharashtra: शिवसेना कार्यकर्ताओं ने रविवार को सोलापुर में कथित तौर पर बीजेपी कार्यकर्ता को पहले काली स्याही से नहलाया और फिर उसे जबरदस्ती साड़ी पहनाई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 7, 2021, 11:07 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र (Maharashtra) के सोलापुर (Solapur) में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता (BJP Workers) को उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) की आलोचना करना भारी पड़ गया. शिवसेना कार्यकर्ताओं ने रविवार को सोलापुर में कथित तौर पर बीजेपी कार्यकर्ता को पहले काली स्याही से नहलाया और फिर उसे जबरदस्ती साड़ी पहनाई. बता दें कि महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की साझे वाली महा विकास अघाडी सरकार है.

इस पूरी घटना का एक वीडियो न्यूज एजेंसी एएनआई ने जारी किया है जिसमें कि कई सारे शिवसैनिक, भाजपा कार्यकर्ता को घेरकर तीन बोतल काले रंग की स्याही से नहलाते दिख रहे हैं. इसके बार ये सभी भाजपा कार्यकर्ता को घेरकर कुछ दूर लेकर जाते दिख रहे हैं. स्याही से भीगे भाजपा कार्यकर्ता को कुछ दूर ले जाने के बाद ये कार्यकर्ता उसे साड़ी पहनाते दिख रहे हैं. भाजपा कार्यकर्ता के उद्धव ठाकरे को लेकर दिए गए बयान की फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिल सकी है. वीडियो में एक पुलिसकर्मी इन कार्यकर्ताओं को रोकने का प्रयास करता दिख रहा है.


इससे पहले रविवार को महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग जिले के कंकावली में एक मेडिकल कॉलेज के उद्घाटन के अवसर पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने शिवसेना सरकार पर निशाना साधा. शाह ने आरोप लगाया कि यह ‘‘तीन-पहिया वाली ऑटोरिक्शा की सरकार’’ सभी मोर्चों पर विफल रही है. उन्होंने कहा, "आपने मेरे और पीएम मोदी के साथ रैली की. हमने कहा कि देवेंद्र फडणवीस हमारे नेता और मुख्यमंत्री पद का चेहरा हैं. आपने तब क्यों कुछ नहीं कहा. तब कोई वादा और बातचीत नहीं थी. सत्ता के लालच में आपने बालासाहेब के सिद्धांतों को तापी नदी में बहा दिया और मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठ गए."



केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, "कुछ लोग कहते हैं कि हमने बंद दरवाजे में वादा किया था. ये सही नहीं है. हम मान भी लें कि वादा किया गया था तो उद्धव जी आपके उम्मीदवारों ने नरेंद्र मोदी की ढाई गुनी ऊंची तस्वीरों और बैनर के साथ प्रचार किया और उनके नाम पर वोट मांगा."

गौरतलब है कि 2019 में महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के बाद मुख्यमंत्री पद के बंटवारे के मुद्दे को लेकर शिवसेना ने अपनी लंबे समय की सहयोगी बीजेपी से नाता तोड़ लिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज