महाराष्ट्र: युवक इंटरनेट पर देखता था हत्या के तरीके और फिर कर दिया पत्नी का कत्ल

आरोपी के खिलाफ IPC की धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

आरोपी के खिलाफ IPC की धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया गया है. (सांकेतिक तस्वीर)

Crime Update: मृतक के भाई ने पुलिस को बताया कि अजय इंटरनेट (Internet) पर किसी व्यक्ति को मारने के तरीके खोजता था. पुलिस ने बताया कि पूछताछ के दौरान अजय ने गुनाह कुबूल लिया है.

  • Share this:

मुंबई. विरार इलाके (Virar Area) में पुलिस ने एक शख्स को अपनी पत्नी की हत्या (Murder) के आरोप में गिरफ्तार किया है. आरोप लगाए जा रहे हैं कि आरोपी वारदात को अंजाम देने से पहले इंटरनेट पर हत्या करने के तरीके खोजा करता था. पुलिस ने जानकारी दी है कि आरोपी के खिलाफ IPC की धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

मिड डे की रिपोर्ट के अनुसार, विरार ईस्ट के गोपचरपाड़ा के रहने वाले 35 वर्षीय अजय हरभजन सिंह ने आरोप कुबूल कर लिया है. जांच में पता चला है कि मृतक रूबी की पहले भी शादी हो चुकी थी. पहली शादी से उसके तीन बच्चे थे. बाद में उसने अजय से शादी की और एक बेटे को जन्म दिया. आरोपी सिंह भी पहले एक बार शादी कर चुका था.

रूबी की बड़ी बहन अपने परिवार के साथ बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर पर रहती है. इसी इमारत में रूबी और अजय भी रहा करते थे. रिपोर्ट में बताया गया है कि अजय इससे पहले रूबी की भतीजी के साथ भाग गया था. जिसके बाद उसके खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया था. पुलिस ने जानकारी दी कि जेल से छूटने के बाद वह अपनी पत्नी के साथ दोबार रहने लगा, लेकिन अपनी पत्नी के साथ मारपीट करता था.

मंगलवार की रात रूबी की छोटी बहन उनके घर पहुंची और उसे बिस्तर पर बेहोश हालत में देखा. रूबी की नाक और मुंह से खून आ रहा था. उसने अपने भाई को जानकारी दी, तो वह भी अपनी पत्नी के साथ मौके पर पहुंच गया. उन्होंने पाया कि अजय दूसरे रूम में कुर्सी पर बैठा हुआ है. पूछने पर अजय ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी, तो परिवार के सदस्यों को लगा कि उसने ही रूबी को मारा होगा.


मृतक के भाई ने पुलिस को बताया कि अजय इंटरनेट पर किसी व्यक्ति को मारने के तरीके खोजता था. पुलिस ने बताया कि पूछताछ के दौरान अजय ने गुनाह कुबूल लिया है. एक पुलिस कर्मी ने मिड डे को बताया, 'सीनियर पीआई वराडे और एएसआई इंद्रनील पाटिल की देखरेख में हमने जांच की और आरोपी को गिरफ्तार किया. उसके खिलाफ IPC की धारा 302 के तहत केस दर्ज किया गया है.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज