महाराष्ट्र: यूनियन का दावा कोविड के चलते 98 कर्मियों की मौत छिपा रही है BEST
Maharashtra News in Hindi

महाराष्ट्र: यूनियन का दावा कोविड के चलते 98 कर्मियों की मौत छिपा रही है BEST
फाइल फोटो

बृहनमुंबई इलेक्ट्रिसिटी और ट्रांसपोर्ट (BEST) यूनियन ने दावा किया कि कोरोना के चलते 107 कर्मियों की मौत हुई. आरोप लगाया कि BEST 98 कर्मियों की मौतें छिपा रहा है.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Coronavirus Maharashtra) के कहर के बीच अब आंकड़ों से हेराफेरी करने की खबरें आ रही हैं. गुरुवार को राजधानी मुंबई में बृहनमुंबई इलेक्ट्रिसिटी और ट्रांसपोर्ट (BEST) यूनियन ने दावा किया कि कोरोना के चलते 107 कर्मियों की मौत हुई. दावा किया कि BEST द्वारा 9 कर्मियों के मौत का आंकड़ा गलत है. BEST के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार अब तक 1385 कर्मी संक्रमित हुए और उसमें से 1078 लोग यानी 78 फीसदी मरीज ठीक हो चुके हैं. वहीं अब तक मृतकों की संख्या 9 है जिसे मई के दूसरे हफ्ते के बाद से ही अपडेट नहीं किया गया है.

Mumbai Mirror की एक रिपोर्ट के अनुसार BEST यूनियन के एक सदस्य ने नाम ना प्रकाशित करने की शर्त पर बताया कि 'बेस्ट प्रशासन मौतों की संख्या को सार्वजनिक नहीं कर रहा है. कम से कम 107 बेस्ट कर्मी कोरोना संक्रमित होने के बाद मारे गए लेकिन प्रशासन इसे मानने से इनकार कर रहा है.'

बेस्ट के अधिकारी ने बताया किसे कर रहे हैं शामिल
रिपोर्ट के अनुसार बेस्ट के एक अधिकारी ने बताया कि आंकड़ों में सिर्फ उन्हें ही शामिल किया जा रहा है जो अस्पताल में भर्ती होने या मरने से 15 दिन पहले तक ऑन ड्यूटी रहे हों. आंकड़ों में शामिल करने के लिए जो अन्य शर्ते हैं उसमें डेथ सर्टिफिकेट में कोविड का जिक्र हो, बीमार होने पर कर्मचारी हमें जानकारी दे या फिर भर्ती होने के बाद ही बताए और परिवार ICMR अप्रूव्ड कोविड-19 रिपोर्ट हमारे पास जमा कराए. रिपोर्ट के अनुसार इन सभी शर्तों का पालन करते हुए 9 नहीं बल्कि 25 लोगों की मौत दर्ज की गई है.
अधिकारी ने कहा कि कई ऐसे मामले हैं जिसमें बेस्ट कर्मी छुट्टी के दौरान संक्रमित हुआ और उसकी मौत हो गई. हम उसे फ्रंट लाइन कर्मी कैसे मान लें? सरकारी हो या निजी, हमने उनके बिल पे किये हैं.' BEST वर्कर यूनियन के मेंबर शशांक राव ने कहा कि बेस्ट एडमिनिस्ट्रेशन ने कोविड के चलते मारे जाने वाले कई स्टाफर्स को 50 लाख रुपए का मुआवजा नहीं दिया और कई अन्य समस्याएं हैं. ऐसे में हमने ऑनलाइन सिग्नेचर मूवमेंट शुरू किया है जिसे हम सीएम को सौंपेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading