कभी बम की सूचना तो कभी लाश की- 14 दिन में 100 फर्जी कॉल करने वाला अब हुआ गिरफ्तार

मुंबई पुलिस को परेशान करने वाला आरोपी आखिर गुजरात से पकड़ा गया, लूट और चोरी के मामलों में तड़ीपार कर दिया गया था जिसके बाद पुलिस से बदला लेने के लिए बनाई योजना.

News18Hindi
Updated: July 7, 2019, 11:43 AM IST
कभी बम की सूचना तो कभी लाश की- 14 दिन में 100 फर्जी कॉल करने वाला अब हुआ गिरफ्तार
रजाक पर लूट और चोरी के 15 से ज्यादा मामले दर्ज हैं. वह अपने परिजन के साथ फिदोनी में रहता था लेकिन बाद में उसे मुंबई से तड़ीपार कर दिया गया.
News18Hindi
Updated: July 7, 2019, 11:43 AM IST
मुंबई के जेजे मार्ग पुलिस स्टेशन में 13 जून को सुबह 3.15 बजे एक फोन आया और पूरी मुंबई पुलिस की नींद हराम हो गई. फोन पर एक शख्स ने बताया कि उसने चोर बाजार इलाके में लाल गाड़ी के अंदर एक बम लगाया है. इसके 14 दिनों तक ऐसे ही फोन लगातार आते रहे. कभी बम की बात होती तो कभी लावारिस पड़ी लाशों की और मुंबई पुलिस एक जगह से दूसरी जगह भटकती रही लेकिन कुछ हाथ नहीं लगा. आखिर में पुलिस को यकीन हो गया कि यह सब फर्जी कॉल थे. उसके बाद पुलिस ने आरोपी को भी ढूंढ निकाला और उसे गिरफ्तार किया.

गुजरात में बैठ कर करता था कॉल
पुलिस ने आरोपी की पहचाना रजाक शेख के तौर पर की. रजाक को पुलिस ने गुजरात से गिरफ्तार किया. उस पर 7 अलग अलग थानों में 100 से ज्यादा फर्जी कॉल करने का आरोप है. रजाक ने पूछताछ में बताया कि वह मुंबई पुलिस को परेशान करना चाहता था. पुलिस ने उसे उसके परिवार से अलग कर दिया जिसका वह बदला लेना चाहता था.

तड़ीपार था रजाक

रजाक पर लूट और चोरी के 15 से ज्यादा मामले दर्ज हैं. वह अपने परिजन के साथ फिदोनी में रहता था लेकिन बाद में उसे मुंबई से तड़ीपार कर दिया गया और आसपास के तीन जिलों से उसे दूर रहने का आदेश दिया गया. जिसके बाद वह गुजरात चला गया और उसने पुलिस को परेशान करने की योजना बनाई.

ये भी पढ़ें-  बीजेपी ने झारखंड के हर विधानसभा में 50,000 सदस्य बनाने का रखा लक्ष्य

विधानसभा चुनाव: 65 पार का लक्ष्य, 25 लाख नये सदस्य बनाएगी बीजेपी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 7, 2019, 11:32 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...