लाइव टीवी

दो बेटियों के बाद तीसरी भी बेटी ही हुई तो चुरा लिया किसी और का बेटा

News18Hindi
Updated: October 18, 2019, 1:41 PM IST
दो बेटियों के बाद तीसरी भी बेटी ही हुई तो चुरा लिया किसी और का बेटा
एक तरफ सरकार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के नारे दे रही है वहीं इस शख्स ने लड़के की चाह में अपनी ही नवजात को अस्पताल में बेसहारा छोड़ कर एक मां की गोद से उसका बेटा चुरा लिया. (प्रतीकात्मक फोटो)

महाराष्ट्र (Maharashtra) के बीड (Beed) जिले की वारदात, अस्पताल (Hospital) के सीसीटीवी (CCTV) फुटेज से हुई आरोपी की पहचान, 24 घंटे में पुलिस (Police) ने आरोपी को गिरफ्तार कर बच्चा परिजन को सौंपा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 18, 2019, 1:41 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के बीड (Beed) जिले में एक चौंकाने वाली वारदात हुई. यहां पर एक अस्पताल (Hospital) से बच्चा चोरी की खबर पर अस्पताल प्रशासन और पुलिस (Police) महकमे में हड़कंप मच गया. इसके बाद पड़ताल शुरू हुई तो सीसीटीवी (CCTV) में बच्चा चोरी करने वाला शख्स दिख गया और उसको पकड़ भी लिया गया. उसके पास से बच्चा भी बरामद हो गया. सभी को लगा बात खत्म लेकिन इस बच्चे को चोरी करने के पीछे जो कहानी सामने आई वो चौंकाने वाली थी. एक तरफ सरकार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के नारे दे रही है वहीं इस शख्स ने लड़के की चाह में अपनी ही नवजात को अस्पताल में बेसहारा छोड़ कर एक मां की गोद से उसका बेटा चुरा लिया.

आंख लगी और बेटे को उठा ले गया
जानकारी के अनुसार धारुर गांव के सैफ सैख की पत्नी सफीना ने अस्पताल में 9 अक्टूबर को बेटे को जन्म दिया. सफीना अस्पताल में वार्ड नंबर 6 में भर्ती थी. सोमवार को वह कुछ देर के लिए अस्पताल में अकेली थी, दोपहर 12 बजे वह बच्चे के साथ सो गई. जब उसकी आंख खुली तो बच्चा उसके पास नहीं थी. इसके बाद अस्पताल में हड़कंप मच गया. पुलिस को सूचित किया गया. पुलिस अस्पताल पहुंची ही थी कि वार्ड नंबर 8 में एक लावारिस बच्ची मिलने की खबर आई. दोनों बातों का आपस में संबंध होने का शक हुआ और पुलिस ने इसी दिशा में काम करना शुरू किया. इसके बाद अस्पताल के सीसीटीवी फुटेज को देखा गया तो एक व्यक्ति बच्चे को ले जाता हुआ दिखा. उसकी पहचान अमर जोगदंड क तौर पर हुई. अमर को पुलिस ने पकड़ कर पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल लिया.

पहले से थीं दो बेटियां, तीसरी हुई तो...

अमर ने बताया कि उसके पहले से तीन बेटियां थीं और जब तीसरी भी बेटी हो गई तो उसने किसी का बेटा चुराने की साजिश रची. इसमें उसकी पत्नी ने भी उसका साथ दिया. उसने अपनी नवजात को अस्पताल के एक अन्य वार्ड में छोड़ दिया. इसके बाद वह सफीना के पास आया. यहां पर मां और बेटा दोनों ही गहरी नींद में थे. मौका देखकर अमर ने बच्चे को उठा लिया और चुपचाप वहां से चला गया. हालांकि 24 घंटे में ही पुलिस ने उसे पकड़ लिया.

ये भी पढ़ेंः Success Story: 12वीं में हुआ था फेल, गर्लफ्रेंड का मांगा साथ और फिर बन गया IPS

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 18, 2019, 1:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...