Home /News /maharashtra /

man suicide in aurangabad wrote wife could not drape a saree properly

महाराष्ट्र में व्यक्ति ने की खुदकुशी, सुसाइड नोट में लिखा, 'पत्नी ठीक से साड़ी नहीं पहन सकती'

पुलिस ने कहा कि व्यक्ति के कमरे से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है. (सांकेतिक तस्वीर)

पुलिस ने कहा कि व्यक्ति के कमरे से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है. (सांकेतिक तस्वीर)

Aurangabad Man Suicide: पुलिस अधिकारी ने कहा कि व्यक्ति ने छह महीने पहले ही महिला से शादी की थी, जो उससे छह साल बड़ी थी, उन्होंने कहा कि आगे की जांच जारी है.

औरंगाबाद. महाराष्ट्र के औरंगाबाद शहर में 24 वर्षीय एक व्यक्ति की अपने घर में कथित तौर पर आत्महत्या करने से मौत हो गई. पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी. पुलिस ने यह भी बताया कि व्यक्ति ने यह दावा करते हुए कि खुदकुशी की घटना को अंजाम दिया कि वह अपनी पत्नी से नाखुश था. मुकुंदवाड़ी थाने के एक अधिकारी ने बताया कि मुकुंदनगर निवासी समाधान साबले ने सोमवार को अपने घर में आत्महत्या कर ली.

मुकुंदवाड़ी पुलिस थाने के प्रभारी ब्रम्हा गिरी ने कहा, “उस व्यक्ति के कमरे से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है, जिसमें उसने दावा किया है कि उसकी पत्नी ठीक से साड़ी नहीं पहन सकती, न चल सकती है और न ही ठीक से बात कर सकती है.” अधिकारी ने आगे कहा कि व्यक्ति ने छह महीने पहले ही महिला से शादी की थी, जो उससे छह साल बड़ी थी, उन्होंने कहा कि आगे की जांच जारी है.

छात्र को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला
दूसरी ओर, बंबई उच्च न्यायालय ने एक छात्र को कथित रूप से आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में महाराष्ट्र के कोल्हापुर के एक स्कूल के अध्यक्ष को गिरफ्तारी से संरक्षण देने से इनकार कर दिया. पिछले महीने पारित एक आदेश में न्यायमूर्ति विनय जोशी की पीठ ने गणपतराव पाटिल द्वारा दायर अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया. कोल्हापुर पुलिस ने अप्रैल में आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में पाटिल के खिलाफ मामला दर्ज किया था. पाटिल ने 10वीं कक्षा के एक छात्र को फटकार लगाई थी जिसके कुछ घंटों बाद उसने आत्महत्या कर ली.

उच्च न्यायालय ने कहा कि आरोपी ने लड़के को अपमानजनक तरीके से डांटा था और प्रथमदृष्टया ऐसा लगता है कि लड़के को गहरा धक्का लगा था. प्राथमिकी के अनुसार लड़के के दादा ने दो अप्रैल को शिकायत दर्ज कराई थी, जिसमें कहा गया कि उसका पोता सिंबॉलिक इंटरनेशनल स्कूल में कक्षा 10 में पढ़ता था, जिसमें पाटिल अध्यक्ष और उसकी पत्नी प्रधानाध्यापक हैं.

शिकायतकर्ता के मुताबिक अनजाने में एक लड़की को टक्कर लगने और उसके घायल होने के बाद पाटिल ने उसे भद्दे तरीके से डांटा और अपशब्द कहे. आदेश में कहा गया कि पाटिल ने लड़के को असभ्य कहा. उसने लड़के से यह भी कहा कि वह सुधरने वाला नहीं है और वह झुग्गी बस्ती का लड़का है. अदालत ने कहा, ‘आवेदक की टिप्पणी आपत्तिजनक थी. बेशक, वह छात्रों को फटकार सकता है, लेकिन ऐसी भाषा में नहीं जो कोमल दिमाग को चकनाचूर कर दे. चश्मदीदों के बयान के मुताबिक, आवेदक ने लड़के को बुरे तरीके से डांटा.’

(इनपुट भाषा से भी)

Tags: Maharashtra

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर