Home /News /maharashtra /

mns chief raj thackeray rally in in pune ask for uniform civil code law on population control

राज ठाकरे बोले- अयोध्या दौरे को लेकर मुझे फंसाना चाहते थे कुछ लोग, सरकार के सामने रखी ये 3 मांगें

राज ठाकरे ने रैली में जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने की वकालत की (फोटो- ANI)

राज ठाकरे ने रैली में जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने की वकालत की (फोटो- ANI)

Raj Thackeray Rally: मनसे प्रमुख की इस रैली से पहले पुलिस ने कई दिशा-निर्देश जारी किए थे. उन्हें भाषण के दौरान इस बात का ध्यान रखने के लिए कहा गया था कि किसी समुदाय का अपमान ना हो.

पुणे. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे ने कहा है कि वो इसलिए अयोध्या दौरे पर नहीं गए क्योंकि कुछ लोग उन्हें विवादों में फंसाना चाहते थे. ठाकरे ने रविवार को पुणे में एक रैली को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने समान नागरिक संहिता और जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने की भी वकालत की. साथ ही ठाकरे ने औरंगाबाद का नाम बदलने का भी प्रस्ताव रखा. बता दें की पुलिस ने शर्तों के साथ ठाकरे को रैली करने की इजाजत दी थी.

राज ठाकरे ने शुक्रवार को ऐलान किया था कि पांच जून का उनका अयोध्या दौरा फिलहाल स्थगित कर दिया गया है. उन्होंने पुणे में अपनी रैली में इसके पीछे की वजह बताई. उन्होंने कहा, ‘दो दिन पहले, मैंने अपनी अयोध्या यात्रा स्थगित करने के बारे में ट्वीट किया था. मैंने जानबूझकर बयान दिया ताकि सभी को अपनी प्रतिक्रिया देने की अनुमति मिल सके. जो लोग मेरी अयोध्या यात्रा के खिलाफ थे, वे मुझे फंसाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन मैंने इस विवाद में नहीं पड़ने का फैसला किया.’

राज ठाकरे का विरोध

उत्तर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी के सांसद बृजभूषण शरण सिंह उनकी अयोध्या यात्रा का लगातार विरोध कर रहे थे. सिंह ने चेतावनी दी थी कि मनसे प्रमुख को तब तक उत्तर प्रदेश के इस शहर में घुसने नहीं दिया जाएगा, जब तक कि वो उत्तर भारतीयों के अपमान पर सार्वजनिक माफी नहीं मांग लेते. मनसे प्रमुख ने हाल में यह कह कर विवाद खड़ा कर दिया था कि मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकर हटाए जाएं. उनके इस रुख का भाजपा ने समर्थन किया था.

पीएम मोदी के सामने रखी ये 3 मांगें

राज ठाकरे ने रैली में जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने की वकालत की. उन्होंने कहा, ‘मैं प्रधानमंत्री जी से अनुरोध करता हूं कि जल्द से जल्द समान नागरिक संहिता लाए, जनसंख्या नियंत्रण पर भी कानून लाए और औरंगाबाद का नाम संभाजीनगर कर दिया जाए.’

हनुमान चालीसा पर क्या बोले ठाकरे?

ठाकरे ने हनुमान चालीसा मुद्दे पर कहा, ‘जब मैंने अपने कार्यकर्ताओं को लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा बजाने के लिए कहा, तो राणा दंपत्ति (रवि और नवनीत राणा) ने कहा कि वे मातोश्री में हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे. क्या मातोश्री एक मस्जिद है? बाद में शिवसैनिकों और राणा दंपत्ति के बीच क्या हुआ, यह तो सभी जानते हैं.’

Tags: Maharashtra, Raj thackeray

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर