लाइव टीवी

अवैध पाकिस्तानी-बांग्लादेशी घुसपैठियों के खिलाफ राज ठाकरे ने निकाला जुलूस, पत्नी और बेटा भी हैं साथ

News18Hindi
Updated: February 9, 2020, 5:11 PM IST
अवैध पाकिस्तानी-बांग्लादेशी घुसपैठियों के खिलाफ राज ठाकरे ने निकाला जुलूस, पत्नी और बेटा भी हैं साथ
राज ठाकरे अपने हिंदुत्ववादी रुख को तेज करते हुए रविवार को सड़कों पर उतर रहे हैं.

राज ठाकरे (Raj Thackeray) की एमएनएस (MNS) की तरफ से इस जुलूस को लेकर जारी एक वीडियो में कहा गया है, 'भारत मेरा देश है. सभी भारतीय मेरे भाई और बहन हैं. लेकिन पाकिस्तानी और बांग्लादेशी घुसपैठिए मेरे भाई-बहन नहीं हैं. वे भारतीय नहीं हैं.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 9, 2020, 5:11 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के अध्यक्ष राज ठाकरे (Raj Thackeray) अपने हिंदुत्ववादी रुख को तेज करते हुए रविवार को मुंबई की सड़क पर उतरे हैं. यहां उन्होंने अवैध पाकिस्तानी-बांग्लादेशी प्रवासियों को देश के बाहर निकालने के लिए जुलूस निकाला. इस दौरान राज ठाकरे के साथ उनके बेटे अमित ठाकरे (Amit Thackeray) और पत्नी शर्मिला ठाकरे भी साथ रहे.

राज ठाकरे ने कहा कि "मुझे समझ नहीं आता कि सीएए के खिलाफ मुसलमान आखिर क्यों प्रदर्शन कर रहे हैं. सीएए उन मुसलमानों के लिए नहीं है जो भारत में पैदा हुए हैं. आप किसे अपनी ताकत दिखा रहे हैं."



इस जुलूस से पहले राज ठाकने ने सिद्धिविनायक मंदिर में पूजा अर्चना की. इस 'महामोर्चे' में मनसे के हजारों कार्यकर्ताओं के शामिल होने की उम्मीद है. यह जुलूस हिंदू जिमखाना से शुरू हुआ, जो मरीन ड्राइव से होते हुए दक्षिणी मुंबई स्थित आजाद मैदान में समाप्त होगा. यहां ठाकरे जनसभा को संबोधित करेंगे.


इस जुलूस के मार्ग पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. इससे पहले मुंबई पुलिस ने मनसे को मुस्लिम बहुल दक्षिण-मध्य मुंबई में मोहम्मद अली रोड से जुलूस निकालने की अनुमति देने से मना कर दिया था.


इससे पहले मुंबई पुलिस प्रवक्ता ने कहा, 'स्थानीय पुलिस के अलावा राज्य रिजर्व पुलिस बल, दंगा रोधी पुलिस, त्वरित कार्य बल, बम निरोधक दस्ता और 600 अतिरिक्त पुलिसकर्मी मोर्चे के मार्ग पर तैनात किए जाएंगे.' उन्होंने कहा कि भीड़ में सादे कपड़ों में भी पुलिस तैनात रहेगी और ड्रोन कैमरों और सीसीटीवी से भी निगरानी रखी जाएगी.

एमएनएस ने इस जुलूस के प्रचार के लिए टीजर लॉन्च किया है. पार्टी ने हालांकि स्पष्ट किया है कि यह जुलूस सीएए-एनआरसी-एनपीआर (CAA-NRC-NPR) के समर्थन में नहीं, बल्कि देश में अवैध रूप से रह रहे पाकिस्तानी-बांग्लादेशी घुसपैठियों के खिलाफ है.

नौ फरवरी को निकाले जाने वाले विभिन्न प्रोमो में से एक में कहा गया है, 'भारत मेरा देश है. सभी भारतीय मेरे भाई और बहन हैं. लेकिन पाकिस्तानी और बांग्लादेशी घुसपैठिए मेरे भाई-बहन नहीं हैं. वे भारतीय नहीं हैं.'

इस दौरान गिरगांव चौपाटी से आजाद मैदान तक जुलूस निकाला जाएगा, जिसमें मांग की जाएगी कि पड़ोसी देशों के अवैध नागरिकों की पहचान की जाए और उन्हें भारत से बाहर खदेड़ दिया जाए.

ये भी पढ़ें- मनसे को मिली मजबूती, पूर्व शिवसेना विधायक हर्षवर्धन जाधव और प्रकाश महाजन की वापसी

बाल ठाकरे ने क्यों कहा था-राज ने मेरी पीठ में छुरा घोंपा है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महाराष्ट्र से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 9, 2020, 9:26 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर