• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • मनी लॉन्ड्रिंग केस: महाराष्ट्र के मंत्री अनिल परब की बढ़ी मुश्किलें, ED ने फिर जारी किया समन

मनी लॉन्ड्रिंग केस: महाराष्ट्र के मंत्री अनिल परब की बढ़ी मुश्किलें, ED ने फिर जारी किया समन


मनी लॉन्ड्रिंग केस में महाराष्ट्र के मंत्री अनिल परब को ईडी ने भेजा समन.

मनी लॉन्ड्रिंग केस में महाराष्ट्र के मंत्री अनिल परब को ईडी ने भेजा समन.

बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) की ओर से अनिल परब (Anil Parab) को जारी किया गया ये दूसरा समन है. इससे पहले एजेंसी ने अनिल परब को 31 अगस्‍त को पूछताछ के लिए बुलाया था लेकिन उन्‍होंने एक लोक सेवक और महाराष्ट्र राज्य मंत्री के रूप में कुछ प्रतिबद्धताओं का हवाला देते हुए कुछ वक्‍त मांगा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के परिवहन मंत्री और शिवसेना नेता अनिल परब (Anil Parab) की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं. प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने एक बार फिर समन जारी कर अनिल परब को पूछताछ के लिए बुलाया है. खबर है कि महाराष्‍ट्र के परिवहन मंत्री को 28 सितंबर को पूछताछ के लिए तलब किया गया है. बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय की ओर से अनिल परब को जारी किया गया ये दूसरा समन है. इससे पहले एजेंसी ने अनिल परब को 31 अगस्‍त को पूछताछ के लिए बुलाया था लेकिन उन्‍होंने एक लोक सेवक और महाराष्ट्र राज्य मंत्री के रूप में कुछ प्रतिबद्धताओं का हवाला देते हुए कुछ वक्‍त मांगा था.

    मनी लॉन्ड्रिंग केस में सचिन वाजे के बयान के बाद महाराष्‍ट्र के गृह विभाग में तबादला पोस्टिंग से जुड़े एक मामले में शिवसेना नेता अनिल परब का नाम सामने आया था. बर्खास्त सहायक पुलिस निरीक्षक सचिन वाजे ने ईडी की पूछताछ में साफ तौर पर नाम लेते हुए कहा था कि अनिल परब और अनिल देशमुख ने 10 पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) के स्थानांतरण को रोकने के लिए 20 करोड़ रुपये लिए थे. वाजे ने बताया कि इन सभी पुलिस आयुक्‍त के स्‍थानांतरण का आदेश तत्‍कालीन मुंबई पुलिस आयुक्‍त परमबीर सिंह ने दिया था.

    पूछताछ के दौरान वाजे ने इस बात का भी खुलासा किया था कि 10 पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) के स्थानांतरण रोकने को लेकर जो 40 करोड़ रुपये हासिल हुए थे, उनमें से 20 करोड़ रुपये अनिल परब और 20 करोड़ रुपए अनिल देशमुख ने लिए थे. वाजे ने बताया कि अनिल देशमुख के लिए पैसा उनके निजी सचिव और ईडी द्वारा गिरफ्तार आरोपी संजीव पलांडे को दिया गया था ज‍बकि अनिल परब का पैसा क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी बजरंग खरमाते को दिया गया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज