लाइव टीवी

टिकट बंटवारे पर शिवसेना में घमासान, 26 पार्षद और 300 कार्यकर्ताओं ने उद्धव को सौंपा इस्तीफा

News18Hindi
Updated: October 10, 2019, 9:38 AM IST
टिकट बंटवारे पर शिवसेना में घमासान, 26 पार्षद और 300 कार्यकर्ताओं ने उद्धव को सौंपा इस्तीफा
इस्तीफा देने वाले नेता और कार्यकर्ता टिकट बंटवारे से नाराज बताए जा रहे हैं. (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Election 2019) से ठीक पहले शिवसेना (Shiv Sena) को एक बड़ा झटका लगा है. पार्टी के 26 पार्षदों और 300 कार्यकर्ताओं ने इस्तीफा (Resigns) दे दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 10, 2019, 9:38 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Election 2019) से ठीक पहले शिवसेना (Shiv Sena) को एक बड़ा झटका लगा है. पार्टी के 26 पार्षदों और 300 कार्यकर्ताओं ने इस्तीफा (Resigns) दे दिया है. टिकट बंटवारे से नाराज इन नेताओं और कार्यकर्ताओं ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को अपना इस्तीफा सौंपा है.

कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) छोड़कर बीजेपी और शिवसेना में शामिल हुए नेताओं के कारण कई मौजूदा विधायकों के टिकट कटे हैं. माना जा रहा है कि इस कारण कई विधायक और उनके समर्थक नाराज चल रहे हैं. उनका कहना है कि हम वर्षों से पार्टी की सेवा कर रहे हैं, लेकिन कुछ दिन पहले अन्य दलों से आए नेताओं को टिकट देना हमारे साथ अन्याय है.



विधायकों ने मातोश्री पर दिया था धरना
Loading...

इससे पहले 3 अक्टूबर को टिकट बंटवारे से नाराज बीजेपी के दो मौजूदा विधायकों ने उद्धव ठाकरे के आवास मातोश्री पर धरना भी दिया था. नाराज़ विधायक अशोक पाटिल के समर्थकों ने कहा, 'हमें विश्वास नहीं हो रहा है कि उन्हें टिकट नहीं दिया गया है. वो पार्टी के लिए हमेशा मौजूद रहे हैं. हम न्याय की मांग कर रहे हैं और उम्मीद है कि उद्धव जी और आदित्य जी हमारे साथ न्याय करेंगे.'

21 अक्टूबर को होना है मतदान
महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों के लिए 21 अक्टूबर को मतदान होना है और इसके तीन दिन बाद नतीजे आएंगे. उद्धव ठाकरे की पार्टी शिवसेना का भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ गठबंधन है. 288 में से  150 सीटों पर बीजेपी चुनाव लड़ रही है जबकि शिवसेना को 124 सीटें मिली हैं. वहीं बाकी के बचे 14 सीटों पर अन्य सहयोगी दल चुनाव लड़ रहे हैं.

2014 में नहीं हुआ था गठबंधन
2014 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी और शिवसेना के बीच गठबंधन नहीं हो पाया था. दोनों दल अलग-अलग चुनाव लड़े थे. बाद में शिवसेना ने बीजेपी को समर्थन दे दिया था. इस बार भी गठबंधन को लेकर काफी कयासबाजी चल रही थी लेकिन अंत में इस पर मुहर लग ही गया. सीट बंटवारे और उपमुख्यमंत्री के पद को लेकर दोनों दलों में सहमति नहीं बन पा रही थी.

ये भी पढ़ें-

पूर्व एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के पास है करोड़ों की संपत्ति, मुंबई से लड़ रहे चुनाव

'राफेल पूजा' के समर्थन में आए निरूपम, बोले-शस्त्र पूजा तमाशा नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 10, 2019, 9:16 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...