मुंबई: कोरोना नियमों के उल्लंघन के नाम पर वसूली कर रहे थे चार मार्शल, ऐसे चढ़े पुलिस के हत्थे

(सांकेतिक तस्वीर)

(सांकेतिक तस्वीर)

Mumbai Coronavirus News: आरोपी निजी सुरक्षा एजेंसी के साथ काम करते हैं जिसे BMC ने उन लोगों से जुर्माना लेने के लिए नियुक्त किया है जो साफ-सफाई के अन्य नियमों का पालन नहीं करते हैं.

  • Share this:

मुंबई. पुलिस ने अंधेरी में एक कारखाने के मालिक से कोविड-19 संबंधित नियमों का उल्लंघन करने का आरोप लगाकर पैसों की वसूली करने की कोशिश कर रहे चार ‘स्वच्छता सुनिश्चित करने वाले मार्शलों’ को गिरफ्तार किया है.

पुलिस के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि आरोपी निजी सुरक्षा एजेंसी के साथ काम करते हैं जिसे मुंबई महानगरपालिका ने उन लोगों से जुर्माना लेने के लिए नियुक्त किया है जो सार्वजनिक स्थलों पर थूकते हैं और साफ-सफाई के अन्य नियमों का पालन नहीं करते हैं.

मुंबई में चक्रवात टाउते को लेकर चेतावनी, BMC ने 580 कोरोना मरीजों को दूसरे अस्पतालों में भेजा

शिकायतकर्ता के मुताबिक इनमें से एक मार्शल अजित सिंह, 21 अप्रैल को उसके पास आया था और उस पर यह आरोप लगाते हुए एक लाख रुपये मांगे थे कि कारखाने में कोविड-19 संबंधित नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है.


कारखाने के मालिक ने उसे 20,000 रुपये दिए. हालांकि, शुक्रवार को चार अन्य फिर से उसके पास आए और यही आरोप लगाते हुए पैसे मांगे. अधिकारी ने बताया कि इसके बाद कारखाने के मालिक ने एमआईडीसी अंधेरी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (भादंसं) की धारा 384 (वसूली) के तहत चार व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है. साथ ही बताया कि मुख्य आरोपी अजित सिंह इस मामले में वांछित है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज