होम /न्यूज /महाराष्ट्र /जयंत पाटिल बनाए गए एनसीपी विधायक दल के नेता, अजित पवार को हटाया

जयंत पाटिल बनाए गए एनसीपी विधायक दल के नेता, अजित पवार को हटाया

एनसीपी विधायक दल के नेता जयंत पाटिल चुने गए हैं (File Photo)

एनसीपी विधायक दल के नेता जयंत पाटिल चुने गए हैं (File Photo)

महाराष्ट्र (Maharashtra) में सियासी हलचल के बीच एनसीपी से बड़ी खबर सामने आई है. एनसीपी (NCP) विधायकों की बैठक में अजित ...अधिक पढ़ें

    मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सियासी हलचल के बीच एनसीपी (NCP) से बड़ी खबर सामने आई है. अजित पवार (Ajit Pawar) को हटाकर जयंत पाटिल (Jayant Patil) को एनसीपी के विधायक दल का नेता (NCP Legislative Party Leader) बनाया गया है. शनिवार की शाम हुई एनसीपी विधायक दल की बैठक में जयंत पाटिल को विधायक दल का नेता चुना गया. इस बैठक में शरद पवार भी मौजूद थे.

    मुंबई के वाई वी चव्हाण सेंटर में आयोजित एनसीपी के विधायकों की बैठक में अजित पवार को पद से बर्खास्त करने का निर्णय किया गया. पहले अजित पवार विधायक दल के नेता थे. वहीं सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि एनसीपी ने अजित पवार से डिप्टी सीएम के पद से इस्तीफा देने के लिए कहा है.

    बता दें, अजित पवार, बीजेपी के समर्थन से महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम के रूप में शपथ ले चुके हैं. जबकि बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी.

    विधायक दल की मीटिंग के बाद एनसीपी ने विज्ञप्ति जारी करते हुए बैठक के बारे में जानकारी दी.


    जयंत पाटिल को दिए गए एनसीपी विधायक दल नेता पद के सारे संवैधानिक अधिकार
    राष्ट्रवादी विधायक दल नेता पद के सारे संवैधानिक अधिकार विधायक और महाराष्ट्र राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल को दिए गए है. विधायक दल की बैठक के बाद एनसीपी ने बयान जारी करते हुए कहा कि पार्टी में अजित पवार के भविष्य पर अंतिम निर्णय लेने के लिए शरद पवार और जयंत पाटिल ही अधिकृत हैं.

    कौन हैं जयंत पाटिल
    एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल कद्दावर नेता हैं, जो पिछले 27 सालों में इस्लामपुर वालवा सीट से छह बार विधायक रह चुके हैं. महाराष्ट्र के प्रतिष्ठित नेता रहे राजाराम बापू पाटिल के बेटे जयंत पाटिल शुरूआत में राजनीति में नहीं आना चाहते थे. 1999 से 2008 के बीच कांग्रेस और एनसीपी की राज्य सरकार में जयंत वित्त मंत्री रहे. 2003-04 के बीच राज्य की अर्थव्यवस्था को नाजुक हालत से उबारने का श्रेय अक्सर जयंत को दिया जाता है.

    " isDesktop="true" id="2632414" >

    ये भी पढ़ें-

    'रात 12 बजे अजित पवार का फोन आया, कहा- धनंजय मुंडे के आवास पर चलना है'

    महाराष्ट्र की सियासत के 12 घंटेः कुछ यूं बदला सत्ता का समीकरण और भाजपा ने मारी 'बाजी'

    शिवसेना के विधायकों से बोले उद्धव ठाकरे- कोई हिम्मत न हारे, हम ही बनाएंगे सरकार

    Tags: Maharashtra, NCP, Sharad pawar

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें