मुंबई में मेडिकल छात्रा सुसाइड: अखिलेश ने पूछा- क्या यही देश की नई दिशा है?

News18Hindi
Updated: May 28, 2019, 2:18 PM IST
मुंबई में मेडिकल छात्रा सुसाइड: अखिलेश ने पूछा- क्या यही देश की नई दिशा है?
FILE PHOTO

मुंबई में मेडिकल स्टूडेंट पायल तड़वी की आत्महत्या का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. इस मामले पर अब यूपी के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया है.

  • Share this:
मुंबई में मेडिकल स्टूडेंट पायल तड़वी की आत्महत्या का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. इस मामले पर अब यूपी के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा है-अनुसूचित जनजाति की होनहार डॉ. पायल तड़वी की आत्महत्या मूलत: उनकी जाति और आरक्षण पर की गयी अपमानजनक शाब्दिक हिंसा का परिणाम है. ये मूलत: उनकी हत्या है और संविधान द्वारा दिये गये संरक्षण की भी. क्या यही देश की नई दिशा है?

अखिलेश यादव से पहले इस मसले पर गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवानी और जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने रोष जताया है. जिग्नेश मेवानी ने पायल की आत्महत्या की खबर शेयर करते हुए लिखा है कि जो भी लोग ऐसा मानते हैं कि जाति शहरी/आधुनिक भारत में अस्तित्व नहीं रखती है, उन्हें ये खबर पढ़नी चाहिए. देश की आर्थिक राजधानी में एक मेडिकल की छात्रा की आदिवासी पृष्ठभूमि के कारण रैगिंग ली गई और प्रताड़ित किया गया. इस वजह से उसे आत्महत्या करनी पड़ी. उसकी शिकायतों को कॉलेज प्रशासन द्वारा नजरअंदाज किया जाना बताता है कि हमारे संस्थान आदिवासियों, दलितों और महिलाओं के साथ होने वाले अत्याचार के प्रति कितने बेफिक्र हैं.

कन्हैया कुमार ने किया ट्वीट

जिग्नेश मेवानी के अलावा इस विषय जेएयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने ट्वीट कर रोष जाहिर किया है. कन्हैया ने लिखा है- जातिवाद ने पायल जैसी प्रतिभाशाली डॉक्टर की जान ले ली. दोषियों को सज़ा दिलाने की मांग करने के साथ जातिगत भेदभाव के तमाम मामलों में न्याय दिलाने के लिए पूरे देश के स्तर पर आंदोलन करने की जरूरत है. रोहित वेमुला के मामले में भी अभी तक दोषियों को सज़ा नहीं मिली है.








तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर

जानकारी के मुताबिक, छात्रा की आत्‍महत्‍या से जुड़ी यह घटना मुंबई के सरकारी अस्‍पताल बीवाईएल नायर हॉस्पिटल की है. छात्रा के माता-पिता की शिकायत पर मुंबई पुलिस ने तीन सीनियर डॉक्‍टर्स के खिलाफ मामला दर्ज किया है. परिजनों का आरोप है कि आरोपी डॉक्‍टर्स उनकी बेटी का मानसिक उत्‍पीड़न के साथ ही जातीय टिप्‍पणी भी करते थे. सीनियर्स के इस व्‍यवहार से पायल बेहद परेशान रहती थी.

खुदकुशी से 4 घंटे पहले की थी तीन सर्जरी

डॉक्‍टर पायल तडवी बीवाईएल नायर हॉस्पिटल से एमडी की पढ़ाई कर रही थीं. उनका दूसरा साल चल रहा था. मीडिया रिपोर्ट में महाराष्‍ट्र एसोसिएशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्‍टर्स के एक सदस्‍य का हवाला देते हुए कहा गया है कि डॉ. पायल ने खुदकुशी करने से तकरीबन 4 घंटे पहले तीन सर्जरी की थी. उन्‍होंने बताया कि उस वक्‍त वह बिल्‍कुल भी तनाव में नहीं थीं. सर्जरी करने के कुछ घंटों के बाद ही उनके कमरे से उनका शव बरामद किया गया.

ये भी पढ़ें:

मुंबई: रैगिंग से परेशान मेडिकल छात्रा ने दी जान, परिजनों ने मंत्री से भी लगाई थी गुहार

KCR की बेटी के चुनाव हारने के बाद समर्थक ने छोड़ा खाना, मौत

चुनाव में हार के बाद TMC में 'गद्दारों' की खोज करेंगी ममता

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 27, 2019, 4:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...