लाइव टीवी

अभी भी BJP के साथ रहने के पक्ष में शिवसेना के 15 से 20 विधायक, देर रात तक मनाते रहे उद्धव

News18Hindi
Updated: November 25, 2019, 10:17 AM IST
अभी भी BJP के साथ रहने के पक्ष में शिवसेना के 15 से 20 विधायक, देर रात तक मनाते रहे उद्धव
रविरात हुई बैठक में विधायकों ने उद्धव और आदित्य ठाकरे से इस बारे में सवाल पूछा था.

रविवार रात हुई मीटिंग में कई विधायकों ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) से सवाल पूछा कि क्या अभी भी बीजेपी के साथ जाया जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 25, 2019, 10:17 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) से इस वक्त एक बड़ी खबर आ रही है. मिली जानकारी के मुताबिक, शिवसेना (Shiv Sena) के 15 से 20 विधायक अभी भी भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ रहने के पक्ष में हैं. रविवार रात हुई मीटिंग में कई विधायकों ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) से सवाल पूछा कि क्या अभी भी बीजेपी के साथ जाया जा सकता है. बताया जा रहा है कि इसी वजह से उद्धव और आदित्य ठाकरे देर तक विधायकों के साथ रुके रहे. वहीं आदित्य कल से ही होटल ललित में विधायकों के साथ जमे हुए हैं.

बीजेपी के साथ सरकार गठन की कोशिशें नाकाम हो जाने के बाद से शिवसेना ने अपने विधायकों की खरीद फरोख्त रोकने के लिए होटल में ठहराया हुआ है. बताया जा रहा है कि विधायकों से इस सवाल को सुनकर उद्धव ठाकरे काफी चिंतित नजर आए और अपनी बात समझाने की कोशिश की. आदित्य ठाकरे रात में वापस मातोश्री लौट जाने वाले थे लेकिन विधायकों का पक्ष सुनने के बाद पार्टी ने उन्हें एमएलए के साथ रहने को कहा. वे अभी भी होटल ललित में ही मौजूद हैं.

सुप्रीम कोर्ट आज सुनाएगा फैसला
महाराष्ट्र में सरकार गठन के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होने वाली है. कोर्ट के फैसले के बाद पार्टियां आगे के निर्णय पर फैसला करेंगी. तबतक शिवसेना समेत अन्य दलों के विधायक भी होटल में ही मौजूद रहेंगे. रविवार को सुप्रीम कोर्ट ने शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की दलीलों को सुनने के बाद महाराष्ट्र और केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया था और कुछ डॉक्यूमेंट मांगे थे. इन्हें देखने के बाद सुप्रीम कोर्ट इस मामले पर अपना फैसला सुनाएगा.

बीजेपी का 155 विधायकों के समर्थन का दावा
इसी बीच बीजेपी ने दावा किया है कि उसके पास 155 विधायकों का समर्थन है. इसमें बीजेपी के 105, अजीत पवार के साथ आए 25 विधायक और 15 निर्दलीय का समर्थन प्राप्त है. वहीं विपक्ष ने दावा किया है कि उनके पास कुल 161 विधायकों का समर्थन है, जिसमें शिवसेना के 56, कांग्रेस के 44, शरद पवार की एनसीपी के 53 और 8 निर्दलीय शामिल हैं. शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी राज्यपाल को विधायकों के समर्थन की चिट्ठी भी सौंपने जा रही है.

 

 

(इनपुट- विवेक गुप्ता)

ये भी पढ़ें-

अजित पवार: को-ऑपरेटिव से शुरू हुआ राजनीतिक करियर, चाचा के लिए छोड़ी थी सीट

शिवसेना NCP को ढाई साल के लिए CM पद देने को तैयार- सूत्र

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 25, 2019, 9:34 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर