लाइव टीवी

अमित शाह ने राहुल गांधी को दी चुनौती, कहा- Article 370 को बहाल करने का ऐलान करें

भाषा
Updated: October 19, 2019, 7:37 PM IST
अमित शाह ने राहुल गांधी को दी चुनौती, कहा- Article 370 को बहाल करने का ऐलान करें
अमित शाह ने दी राहुल गांधी को चुनौती

अमित शाह (Amit Shah) ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को यह घोषणा करने की चुनौती दी कि यदि उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो वह जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को बहाल करेगी.

  • Share this:
नवापुर. महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों (Maharashtra Assembly election) से पहले सभी पर्टियों ने प्रचार में अपनी ताकत झोंक दी. नवापुर में एनडीए के लिए वोट मांग रहे केंद्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने कांग्रेस को अनुच्छेद 370 (Article 370) पर जमकर घेरा. उन्होंने राहुल गांधी को यह घोषणा करने की चुनौती दी कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो वह जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को बहाल करेंगे.

महाराष्ट्र के नंदूरबार जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए
शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने विशाल जनादेश से दूसरी बार सत्ता में आने के बाद पहला काम अनुच्छेद 370 को खत्म करने का किया है. यह अनुच्छेद जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देता था.


कांग्रेस को राष्ट्र हित की कोई चिंता नहीं
उन्होंने आगे कहा, 'विशेष प्रावधानों की वजह से पाकिस्तान ने राज्य में आतंकवाद को भड़काया, जिसमें 40 हजार से ज्यादा लोग मारे गए. कश्मीर का विकास रुक गया, लेकिन कांग्रेस इन प्रावधानों को खत्म करने के लिए राजी नहीं थी. वह अपने वोट बैंक के लिए चिंतित थी और उसे राष्ट्रहित की कोई चिंता नहीं थी.' अमित शाह ने कहा, 'किसी भी प्रधानमंत्री ने फैसला लेने का साहस नहीं दिखाया. मोदी ने 56 इंच के सीने के साथ ऐसा किया.'

राहुल गांधी को दी ये चुनौती
शाह ने कहा, ‘राहुल गांधी कहते हैं कि महाराष्ट्र का अनुच्छेद 370 से क्या वास्ता है. मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि वह घोषणा करें कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को लागू करेगी. अब भी विधानसभा चुनाव होने में एक दिन बचा हुआ है. देखिएगा लोग कैसा जवाब देंगे. क्या आप नहीं चाहते कि कश्मीर भारत का अखंड हिस्सा हो.’


आदिवासी कल्याण के लिए केंद्र ने बनाई कई योजनाएं
Loading...

शाह ने कहा कि नंदूरबार को मोदी सरकार की आदिवासी विकास नीति के तहत 115 जिलों में शामिल किया गया. उन्होंने कहा, 'अगले पांच साल में नंदूरबार देश में अग्रणी आदिवासी जिला होगा और महाराष्ट्र नंबर वन राज्य होगा'. शाह ने आदिवासी कल्याण के लिए राज्य सरकार और केंद्र द्वारा चलाए गए विकास कार्यों का उल्लेख किया.

ओबीसी के लिए कांग्रेस सरकार ने नहीं किया कोई काम
उन्होंने कहा, 'मोदी सरकार ने आदिवासी स्वतंत्रता सेनानियों के लिए स्मारक निर्माण कराने का फैसला किया. इसी तरह एकलव्य मॉडल स्कूल शुरू किया गया है'. शाह ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने आदिवासियों का इस्तेमाल केवल वोट के लिए किया और कभी उनके विकास के लिए काम नहीं किया. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने 55 साल में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के कल्याण के लिए कुछ नहीं किया. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया.

ये भी पढ़ें: 

महाराष्ट्र में राजमार्ग पर धमाके में ट्रक चालक की मौत

बारिश में भीगते हुए रैली में बोले शरद पवार, सतारा में मानी NCP की 'गलती'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 19, 2019, 5:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...